DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बहादुर बहनों को गणतंत्र दिवस पर सम्मानित करेगी हरियाणा सरकार

चलती बस में कथित तौर पर छेड़खानी करने वाले तीन युवकों से मुकाबला करने वाली दो बहनों को उनकी बहादुरी के लिए हरियाणा सरकार ने गणतंत्र दिवस के मौके पर सम्मानित करने की घोषणा की। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि दोनों बहनों ने रोहतक में हरियाणा रोडवेज की चलती बस में छेड़खानी करने की कोशिश कर रहे तीन युवकों से डटकर मुकाबला किया और अदम्य साहस दिखाया।

उन्होंने कहा कि महिला यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए प्रभावशाली कदम उठाए जाएंगे। लड़कियों को गणतंत्र दिवस के मौके पर नकद पुरस्कार दिए जाएंगे। घटना पर गंभीर संज्ञान लेते हुए हरियाणा सरकार ने पुलिस महानिदेशक (डीजीपी)  और राज्य परिवहन विभाग से यात्रियों की,  खासकर हरियाणा रोडवेज की बसों में यात्रा करने वाली महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाने को कहा है।

बयान में कहा गया है कि बस चालकों और परिचालकों को यह सुनिश्चित करने का भी निर्देश दिया गया है कि इस तरह की घटनाएं भविष्य में नहीं हो। कॉलेज जा रही दोनों बहनों ने कल चलती बस में छेड़छाड़ करने वाले तीन लोगों से मुकाबला किया। दोनों बहनों में से एक ने पेटी से युवकों का मुकाबला किया। छेड़खानी की इस घटना के दौरान बस के दूसरे यात्री मूकदर्शक बने हुए थे।

एक यात्री ने मोबाइल फोन पर पूरी घटना को रिकॉर्ड कर लिया। टेलीविजन और सोशल मीडिया पर यह वायरल हो गया। इसमें दिखता है कि दोनों लड़कियां छेड़खानी करने वालों पर घूंसे और पेटी चला रही हैं। सभी तीनों युवकों- कुलदीप, मोहित और दीपक को बाद में गिरफ्तार कर लिया गया।

केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने घटना पर कहा कि इन बहनों ने जो किया वो सभी लड़कियों को करना चाहिए। उन्होंने अच्छा किया। लेकिन, यह निराशाजनक है कि कोई भी दूसरा यात्री मदद के लिए नहीं आया। समाज को अपनी मनोदशा बदलनी होगी और अगर इस तरह की घटनाएं होती है तो लोगों को मूकदर्शक बने रहने के बजाय इसे रोकना चाहिए।

उन्होंने कहा कि लड़कियां क्या पहनी हैं,  ये मायने नहीं रखता। लोगों को साथ आना चाहिए और सुनिश्चित करना चाहिए कि महिलाओं का सम्मान और उनकी गरिमा बरकरार रहे। राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष ललिता कुमारमंगलम ने भी लड़कियों की तारीफ की है। उन्होंने कहा कि मैं लड़कियों को बधाई देना चाहूंगी और प्रशासन से पर्याप्त कदम उठाने का आग्रह करती हूं।

कुछ ही लड़कियों में छेड़खानी करने वालों का मुकाबला करने का साहस होता है। सरकार को कदम उठाने चाहिए। मैं अपील करूंगी कि भारत का हर नागरिक आगे आएं। दोनों लड़कियों के अभिभावकों ने तीनों युवकों के खिलाफ हरियाणा पुलिस के समक्ष प्राथमिकी दर्ज करायी है। बताया गया कि रोहतक में कांसला गांव के निकट छेड़खानी करने वाले युवक उतर गए थे। पीडिताओं ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि शुक्रवार को जब वह अपने कॉलेज जा रही थीं तो हरियाणा रोडवेज की बस में कुछ युवकों ने छेड़खानी की। एक पीडिता ने जब आपत्ति की तो एक आरोपी उन्हें पीटने लगा।     

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बहादुर बहनों को गणतंत्र दिवस पर सम्मानित करेगी हरियाणा सरकार