DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब पक्षियों को बनाया जा रहा आत्मघाती हमलवार!

अब पक्षियों को बनाया जा रहा आत्मघाती हमलवार!

दुनिया भर में आतंकवादी व्यापक तौर पर रक्तपात के लिए मानव बम का इस्तेमाल कर रहे हैं, लेकिन ऐसा लगता है कि अब उन्होंने अपनी रणनीति बदली है। क्योंकि अफगानिस्तान में उनके द्वारा पक्षियों का इस्तेमाल आत्मघाती हमलावर के तौर पर करने का मामला सामने आया है।

तालिबान द्वारा इस तरह की रणनीति का इस्तेमाल करने का मामला सामने आया है और अफगानिस्तान पुलिस ने कथित तौर पर इस तरह की एक चिडिया को मार गिराया है, जिसके शरीर पर विस्फोटक, जीपीएस तथा डेटोनेटर बंधे थे। डेली मेल द्वारा सोमवार को जारी रपट के मुताबिक, पक्षी के पंख से कई तार निकले हुए थे। उसके शरीर पर विशेष तौर पर डिजाइन एक जैकेट बंधा हुआ था, जिसपर एक मोबाइल फोन डेटोनेटर बंधा हुआ था।

तुर्कमेनिस्तान की सीमा के समीप देश के उत्तरी हिस्से के फरयाब प्रांत में सतर्क अधिकारियों ने उस संदिग्ध पक्षी की पहचान कर ली। उस पक्षी का आकार सामान्य से बड़ा देखकर उनकी शंका को और बल मिला, क्योंकि इस तरह का पक्षी वहां पहले कभी नहीं देखा गया था।

अफगानिस्तान पुलिस के अब्दुल नबी इल्हाम द्वारा एनबीसी न्यूज को दिए गए साक्षात्कार के हवाले से डेली मेल ने कहा कि जब पक्षी को गोली मारी गई, तो उसमें विस्फोट हो गया तथा संदिग्ध धातु के टुकड़े चारों तरफ बिखर गए। इल्हाम ने कहा कि उन टुकड़ों को इकट्ठा करने के दौरान हमने उसमें एक छोटे कैमरे तथा जीपीएस के टुकड़े पाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब पक्षियों को बनाया जा रहा आत्मघाती हमलवार!