DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लालू-राबड़ी को आयोग की नोटिस

चुनावी सभाओं में अनाप-शनाप भाषण देने पर चुनाव आयोग ने बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी तथा रलमंत्री लालू प्रसाद को नोटिस जारी किया है। आयोग ने दोनों से 11 अप्रैल सुबह 11 बजे तक जवाब देने को कहा है। जवाब मांगा है। लालू के खिलाफ किशनगंज और राबड़ी के खिलाफ सारण में आपराधिक मामले पहले ही दर्ज किए जा चुके हैं।ड्ढr ड्ढr राबड़ी पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर व्यक्ितगत आक्षेप लगाने तथा लालू पर भाजपा नेता वरुण गांधी को रोलर से कुचलवाने का वक्तव्य देने का आरोप है। आयोग ने चिदंबरम की सभा के मामले में राजस्थान के मुख्यमंत्री से भी जवाब मांगा है। इस सभा में चिंदबरम ने थार एक्सप्रेस का किराया कम करने की घोषणा की थी। चुनाव उपायुक्त जेपी प्रकाश ने गुरुवार को संवाददाताओं को बताया कि राबड़ी पर आदर्श चुनाव आचार संहिता की धारा 1 (1) तथा लालू को धारा 1 (3) के उल्लंघन का दोषी पाया गया है। चुनाव उपायुक्त जे .पी. प्रकाश ने गुरुवार को यहां पत्रकारों को बताया कि प्रसाद को वरुण गांधी के खिलाफ आपत्तिजनक बयान देने के मामले में तथा राबड़ी देवी को नीतीश कुमार के खिलाफ अशोभनीय टिप्पणी करने के मामले में नोटिस जारी किए गए हैं। प्रकाश ने बताया कि राबड़ी को कहा गया है कि वह निजी मामलों में टीका टिप्पणी न करे। लालू को कहा गया है कि वह पार्टियों की नीति और कार्यक्रमों की आलोचना तक ही खुद को सीमित रखें।ड्ढr ड्ढr यह पूछे जाने पर कि क्या गढ़वा में लालू प्रसाद के हेलीकाप्टर रास्ते में उतारे जाने के संबंध में भी कोई शिकायत आयोग को मिली है, उन्होंने बताया कि आयोग को अभी तक ऐसी कोई शिकायत नहीं मिली है। प्रकाश ने बताया कि आयोग को राबड़ी देवी की सीडी तथा लालू के बयान की ट्रांसक्रिप्ट मिल जाने के बाद ये नोटिस जारी किए गए।ड्ढr गौरतलब है कि लालू प्रसाद ने वरुण गांधी की छाती पर रोलर चलवाने संबंधी कथित बयान दिया था जबकि श्रीमती राबड़ी देवी ने नीतीश कुमार और बिहार जदयू के प्रदेश अध्यक्ष राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह को लेकर अशोभनीय बयान दिया था जिसको लेकर पिछले कुछ दिनों से मीडिया में काफी तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त हुई थी। श्रीमती मेनका गांधी ने बदायूं में लालू के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। नीतीश कुमार ने भी कहा था कि श्रीमती राबड़ी देवी के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। लालू ने मामले की नजाकत को देखते हुए कहा था कि नीतीश कुमार उनके भाई समान हैं जबकि श्रीमती राबड़ी देवी ने बुधवार को कहा कि वह अब भी बयान पर कायम हैं। लालू ने बाद में वरुण गांधी के खिलाफ दिए गए बयान को बदलकर कहा कि मैंने राजनीतिक बुलडोजर चलाने की बात कही थी।ड्ढr ड्ढr इसी प्रकार आयोग ने आंध्र प्रदेश के कांग्रेस अध्यक्ष डी श्रीनिवास को भी आचार संहिता की धारा 1 (3) के तहत नोटिस जारी किया है। श्रीनिवास ने एक चुनाव सभा में हुंकार भरी थी कि जो भी मुसलमानों के खिलाफ उंगली उठाएगा उसकी उंगली काट दी जाएगी। आयोग ने जम्मू-कश्मीर बैंक के चेयरमैन द्वारा कर्मचरियों की रिटारयमेंट उम्र बढ़ाने की घोषणा को आदर्श चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन माना है। आयोग ने चेयरमैन और राज्य के वित्त सचिव को नोटिस देकर जवाब मांगा है और इस योजना को तुरंत वापस लेने को कहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: लालू-राबड़ी को आयोग की नोटिस