DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एनसीआर से सटे जिलों में शराब की तस्करी पर आबकारी सख्त

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में आने वाले प्रदेश के जिलों में शराब की तस्करी होने की सूचनाओं पर विभाग ने सख्त रुख अख्तियार किया है। आबकारी आयुक्त अनिल गर्ग ने इन जिलों के विभागीय अधिकारियों को लगातार छापेमारी करने और उसकी रिपोर्ट मुख्यालय भेजने का निर्देश दिया है।

दरअसल एनसीआर के जिलों में आबकारी विभाग की चुनौतियां अन्य जिलों से थोड़ी अलग हैं। राजस्व का निर्धारित लक्ष्य प्राप्त करने के लिए अन्य जिलों में जहां अवैध शराब की बिक्री रोकना थोड़ा आसान होता है, वहीं एनसीआर के जिलों में कठिन। इसकी वजह यह है कि अन्य जिलों में कच्ची शराब बनाने के धंधे पर अंकुश लगाना होता है, जबकि एनसीआर के जिलों में तस्करी की शराब की बिक्री भी रोकनी होती है। बिना लाइसेंस के बार संचालित होने की समस्या तो सभी जिलों में है। अवैध बार में शराब की बिक्री पर अंकुश न लगा पाने की स्थिति में भी विभाग को राजस्व की हानि होती है। आबकारी आयुक्त ने अवैध बार बंद कराने का अभियान प्राथमिकता पर चलाने का निर्देश भी दिया है।

एनसीआर में शामिल अन्य प्रदेशों नई दिल्ली, हरियाणा व राजस्थान के जिलों में शराब की कीमतें कम होने की दशा में तस्करी होने लगती है। पड़ोसी प्रदेशों से तस्करी के जरिए लाई गई शराब की बिक्री से प्रदेश के आबकारी विभाग को राजस्व की क्षति होती है। आबकारी आयुक्त ने इन जिलों के आबकारी विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि अंतर जनपदीय विभागीय टीमों एवं पुलिस के सहयोग से तस्करी की शराब की बिक्री रोकी जाए और अभियान से संबंधित वीडियो बनाकर उसे विभाग की वेबसाइट पर अपलोड किया जाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एनसीआर से सटे जिलों में शराब की तस्करी पर आबकारी सख्त