DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिस मान रही ऑन की खातिर हत्या

देवरी रोड पर रचना पैलेस में हुई महिला की हत्या ने पुलिस के होश उड़ा दिए हैं। पुलिस सरगर्मी से महिला के भाई और उसके दोस्त की तलाश कर रही है। पुलिस की नजर में यह मामला सीधे-सीधे आन की खातिर हत्या का है। पुलिस को ऐसे सबूत भी मिले हैं। कालोनी वासियों से पूछताछ में यह पता चला है कि महिला का भाई दिन में घर पर आया था।
नेतराम कुशवाह ने पुलिस को बताया कि आरती का मायका डिफेंस कालोनी में है। वह आरती से बेहद प्यार करता था। सात साल पहले उन्होंने लव मैरिज की थी। वह दोनों बेहद खुश थे। आरती के मायके वालों ने उससे रिश्ता तोड़ लिया था। वह इस शादी के खिलाफ थे। दोनों की जाति अलग है, इसलिए उन्हें यह रिश्ता कबूल नहीं था। उस समय आरती का भाई जेल में बंद था। उसे बलात्कार के एक मामले में सजा हो गई थी। उसने जेल से खबर भिजवाई थी कि यह अच्छा नहीं हो रहा है। वह छोड़ेगा नहीं। उन्होंने उसकी धमकी को गंभीरता से नहीं लिया। शादी के बाद राकेश यह दबाव बनाने लगा कि वह बलात्कार के मुकदमे में उसकी पैरवी करें। उन्होंने ऐसा भी नहीं किया। हाल ही में वह जेल से छूटा था। उनके घर आना शुरू कर दिया था। आरती को सपने में उम्मीद नहीं थी कि वह उसे मार डालेगा। बुधवार को भी राकेश उनके घर आया था।
सुबह दस बजे उन्हें स्कूल के काम से जाना था। वह सेवला स्थित एक साइबर कैफे पर वजीफा का डाटा फीड करा रहे थे। उसके बाद उन्हें झूमर खरीदने के लिए फिरोजाबाद जाना था। सवा बजे करीब पत्नी को फोन मिलाया। फोन नहीं उठा। उन्हें लगा कि वह नहा रही होगी। चंद मिनट बाद ही पड़ोसी का फोन आया। वह घबराया हुआ था। तत्काल घर आने को कहा। वह घर पहुंचे तो पत्नी का शव मिला।
नेतराम का कहना है कि उनका सीधा शक राकेश पर ही गया। पुलिस को मौके से एक शर्ट का टूटा हुआ बटन भी मिला है। मौके पर फोरेंसिक टीम और डॉग स्क्वायड को भी बुलाया गया था, ताकि साइंटिफिक सबूत जुटाए जा सकें।
कई सबूत मौके से मिले हैं। पुलिस फिलहाल उनका खुलासा नहीं कर रही है। छानबीन करने में पुलिस को क्षेत्रीय लोगों ने यह जानकारी दी कि बाइक पर दो युवक आए थे। पुलिस का मानना है कि एक राकेश व दूसरा लोकेश था। दोनों साथ ही रहते हैं। लोकेश और राकेश की दोस्ती जेल में हुई थी। सुबह दोनों को इस इलाके में घूमते हुए भी देखा गया था।

मां के खून से सना था बेटा
आगरा। कमरे में बेड पर आरती का धड़ पड़ा हुआ था, जबकि सिर लटक रहा था। रिसते खून से कमरे की पूरी जमीन लाल हो गई थी। जमीन पर खेल रहा छोटा बेटा युवराज खून से सना हुआ था। पड़ोसियों और किराएदारों ने बताया कि वह फर्श पर खेल रहा था। वहां खून पड़ा था, इसलिए वह खून से पूरी तरह सन गया। उसे नहीं पता था कि मां को क्या हुआ है। बड़ा बेटा हर्षित दहशत में था। रोए जा रहा था। मां को क्या हुआ है यह पूछ रहा था।



हिरासत में लिया फौजी भाई
पुलिस ने बताया कि वारदात की सूचना मिलते ही डिफेंस कालोनी निवासी आरती का एक भाई मौके पर आ गया था। वह फौजी है। पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। उससे राकेश के बारे में पूछताछ की जा रही है। हिरासत में लिए गए भाई ने अपने जीजा पर हत्या का शक जताया। कहा कि उसने ही मारा है। फिलहाल पुलिस इस आरोप को गंभीरता से नहीं ले रही है। क्षेत्रीय लोगों के बयान ने पुलिस का शक जेल से रिहा हुए भाई और उसके साथी पर पुख्ता कर दिया है। दोनों की सरगर्मी से तलाश की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पुलिस मान रही ऑन की खातिर हत्या