DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रेप नहीं, लेकिन पिलाई गई थी नशीली चाय

शहर कोतवाली थाना क्षेत्र में एक ठेकेदार के खिलाफ नशीली चाय पिलाकर बलात्कार किए जाने का मुकदमा दर्ज कराया गया था। इस मामले में पुलिस ने पूरी जांच कर ली है और मामला रेप का नहीं निकला है। लेकिन जांच में चाय में नशीला पदार्थ मिलाने की बात सामने आई है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

शहर कोतवाली थाना क्षेत्र में ये मामला इसी साल मार्च महीनें में सामने आया था। शहर कोतवाल बलवीर सिंह गौर का कहना है कि 12 मार्च को बागपत की रहने वाली पीड़ित महिला चौगुर्जी के निवासी ठेकेदार विमलेश अवस्थी पुत्र पदम नारायण अवस्थी के घर आई थी। रात में उनके घर रुकने के बाद खुद विमलेश अवस्थी उन्हें बस स्टैंड तक छोड़ने गए थे। लेकिन उसके बाद उस महिला ने थाने पहुंचकर विमलेश अवस्थी पर नशीली चाय पिलाकर बेहोश करने के बाद बलात्कार किए जाने के आरोप में मुकदमा दर्ज कराया था। इस मामले में जांच पड़ताल की गई, लेकिन साक्ष्य जो सामने आए, उसमें बलात्कार की पुष्टि नहीं हो सकी। लिहाजा इस धारा को हटा दिया गया, लेकिन चाय में नशीला पदार्थ मिले होने की पुष्टि होने के बाद विवेचना पूरी कर ली गई। आरोपी विमलेश अवस्थी को ईदगाह से गिरफ्तार किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रेप नहीं, लेकिन पिलाई गई थी नशीली चाय