DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महंगाई का पेटेंट

आने वाले समय में लिखने-पढ़न को लकर कोई बखेड़ा न खड़ा हो जाए यह सोच कर मैं पेटेंट कार्यालय में जा पहुंचा। थ्रू प्रॉपर चैनल वाया चपरासी, मैं पेटेंट आफिस के उच्च अधिकारी के सामने खडा था। सवाल आया - आपकी तारीफ? मैंने कहा - जी लेखक हूं। अगला सवाल - आन की वाह?जी मैं अपनी बुद्धि का पेटेंट कराना चाहता हूं। वे हंसे, बोले - देखिए पेटेंट बुद्धि का नहीं बौधिक संपदा का होता है। बुद्धि का पेटेंट करान के लिए आपको सिद्ध करना पड़ेगा कि यह आपके पास है। मैं सोच में पड़ गया। मैं बोला,- आप ऐसा करिए भूख भ्रष्टाचार और महंगाई का पेटेंट मुझे दे दीजिए। वे चकराए, क्या आप इसके जनक हैं? लोग तो इससे पीछा छुड़ाते हैं, फिर आप इसका पेटेंट क्यों मांग रहे हैं ? देखिए मुझे लगता है, भूख महंगाई और भ्रष्टाचार पर लिख कर मेरी उम्र कट जाएगी फिर एक बार इसका पेटेंट मेरे नाम हो गया ता कोई इस मामले में मुझ पर उंगली नहीं उठा सकेगा। ठीक है हम विचार कर सकते हैं, पर यह बताइए इसे आप अपनी मौलिक कृति कैस कह सकते है? मैं सोच में पड़ गया, फिर बोला, देखिए जनाब कोई खाते-पीते घर का आदमीं लेखक नहीं होता। वैसे भी भ्रष्टाचार का भाव इसी जाति पर सर्वाधिक पाया जाता है। आप मानें या न मानें भ्रष्टाचार एक मानसिक अवस्था का खास चिंतन है, जसे कि आपके चपरासी ने मुझे आपसे मिलवान के बीस रुपए लिए हैं। हो सकता है कि और लोगों को यह दस्तूर लगे, परंतु मुझे इसमें भ्रष्टाचार की गंध आती है। रही महंगाई, तो यह सर्वाधिक लेखक को ही सताती है, इसे आप रचना पढ़ कर भी देख सकते हैं।ड्ढr उन्होंने मुझे आग्नेय नेत्रों से देखा- मुझे तुम्हारा केस टिपिकल नार आ रहा है। मैंने तो यहाँ तक सुना है कि लेखक लोग लाखों और कुछ ता करोंड़ों तक कमाते हैं। मैं टूटते ही बोला,- जी यह हिन्दी मीडियिम में नहीं होता। उन्होंने फाइल में डूबा सर ऊपर उठाया और बोले इसका पेटेंट तुम्हारे नाम नहीं किया जा सकता। पेटेंट तुम्हारे नाम हो गया तो अन्य लेखक आपत्ति दर्ज कराने आ पहुंचेंगे। वैसे अगर भूख भ्रष्टाचार और महंगाई का पेटेंट हमने लेखकों के नाम कर दिया तो हमारे देश की राजनीति अनाथ हो जाएगी। आप तो समझदार लगते हैं। आप ही बताइए इस देश में लोकतंत्र को जिंदा रखन के लिए इसका पेटेंट किसके पास होना चाहिए?

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: महंगाई का पेटेंट