DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सर्वखाप ने लड़कियों पर बंदिश की खबर को गलत बताया

सौरम गांव में मंगलवार को सर्वखाप की पंचायत में लड़कियों के फेसबुक, वाट्सएप, इंटरनेट के प्रयोग करने और जीन्स पहनने पर न तो बंदिश लगाई गई न ही इस बारे में विचार किया गया। सर्वखाप के मंत्री सुभाष बालियान ने बुधवार को बताया कि इलेक्ट्रॉनिक मीडिया सर्वखाप को लेकर भ्रांति न फैलाएं।


बालियान ने बताया कि मंगलवार को सौरम गांव में सर्वखाप पंचायत में आए खाप चौधरियों ने कन्या भ्रूण हत्या, सगोत्रीय विवाह और बच्चाों के आचरण पर विचार-विमर्श किया था, जिसका बुधवार को समाचार पत्रों में प्रकाशन भी हुआ।


बुधवार को अचानक कुछ टीवी चैनलों ने खबर चला दी कि सर्वखाप पंचायत में लड़कियों के फेसबुक, वाट्सएप, इंटरनेट, मोबाइल के प्रयोग करने और जींस पहनने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। जबकि ऐसा कुछ नही हुआ। सगोत्रीय विवाह, बच्चाों के आचरण समेत कुल 14 बिंदू खाप चौधरियों के समक्ष विचार के लिए रखे गए थे लेकिन उन पर निर्णय लेने के लिए दो माह बाद राठी खाप में होने वाली सर्वखाप की पंचायत में सहमति बनी थी।


बालियान ने कहा कि इस तरह की भ्रामक खबरे फैलाकर सर्वखाप को कटघरे में खड़ा करने की कोशिश की जाती है। जबकि सर्वखाप समाज में कुरीतियों को दूर करने के लिए प्रयास करती है। उन्होंने कहा कि जो निर्णय सर्वखाप में होगा वह आगामी पंचायत में होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सर्वखाप ने लड़कियों पर बंदिश की खबर को गलत बताया