अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हां, हमारी कुछ खिलाड़ी अनफिट थीं

पुरुषों की तरह ही महिला हॉकी टीम भी ओलंपिक क्वालिफाइंग अभियान में फेल होकर वापस आ गई। पुरुष टीम के क्वालिफाई नहीं करने के बाद महिलाओं पर कुछ ज्यादा ही दबाव था। सिर्फ और सिर्फ एक महीने की तैयारियों के बाद ओलंपिक क्वालिफाइंग जसे टूर्नामेंट नहीं जीते जाते। वह भी बिल्कुल विपरीत परिस्थितियों में। पुरुष टीम जब क्वालिफाई नहीं कर पाई थी तो काफी हो-हल्ला हुआ था। यह स्वाभाविक भी था। 1े बाद पहली बार जो एसा हुआ था। लेकिन महिला टीम के साथ एसी स्थिति नहीं थी। उससे ज्यादा उम्मीदें किसी को थी भी नहीं। खुद कोच को भी नहीं। उन्होंने भारत पहुंचने पर कहा, ‘मुझे जितना समय मिला, मैंने अपनी ओर से हरसंभव कोशिश की। ओलंपिक क्वालिफाइंग की तैयारियों के लिए एक महीने का समय काफी नहीं होता। वैसे भी हमारी कुछ खिलाड़ी तो पूरी तरह से फिट भी नहीं थीं। ऊपर से शुरुआत में वहां का मौसम। हमारी खिलाड़ी 0 और उससे कम तापमान में खेलने की आदी नहीं है। हालांकि बाद के मैचों में हमारी खिलाड़ी ज्यादा परशान नहीं हुई।’ कोच कहते हैं, ‘इतने बड़े टूर्नामेंट के लिए काफी पहले से प्लेयिंग प्लान बनाने की जरूरत होती है। और उससे ज्यादा जरूरी होता है उसे लागू करना। हमें प्रोफेशनल एप्रोच अपनानी होगी। एक माह पहले फिट-अनफिट खिलाड़ियों को एकत्रित कर ओलंपिक क्वालिफाइंग जसे अहम टूर्नामेंट की तैयारियां नहीं की जातीं। फिर भी खिलाड़ियों में जोश की कोई कमी नहीं थी। विपरीत परिस्थितियों के बावजूद मैं अपनी टीम के प्रदर्शन के खराब नहीं मानता। हां, कुछ खामियां जरूर रहीं। कुछ खिलाड़ियों ने तो अपनी चोट को छुपाया।’ड्ढr ओलंपिक क्वालिफाइंग के लिए रवाना होने से एक माह पहले ही कोच पद संभालने वाले महाराज किशन कौशिक ने कहा, ‘हमें पूरी तरह से प्रोफेशनल लुक अपनाने की जरूरत है। मॉडर्न और डोमेस्टिक हॉकी में बहुत फर्क है। हमें मॉडर्न एप्रोच अपनानी होगी।’ड्ढr टीम के क्वालिफाई नहीं करने से कोच निराश नहीं है, वे कहते हैं, ‘किसी भी अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट के लिए हमें कम से कम 40-50 खिलाड़ियों का पूल बना कर तैयारियां करनी चाहिए। इन खिलाड़ियों के बीच आपस में ही ज्यादा से ज्यादा मैच खिलाए जाने चाहिए। साथ ही एक्सपोजर की भी बहुत जरूरत है जो कि हमारी टीम को न के बराबर ही मिला।’ड्ढr क्या टीम के प्रदर्शन और खिलाड़ियों की फिटनेस के बार में आप अपनी रिपोर्ट में जिक्र करंगे, पूछने पर उन्होंने कहा, ‘अवश्य करूंगा। मैं अगले सप्ताह रिपोर्ट आईडब्ल्यूएचएफ को सौंप दूंगा।’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: हां, हमारी कुछ खिलाड़ी अनफिट थीं