DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पैसे में कटौती हुई तो केंद्रीय मंत्रियों को बिहार में घुसने नहीं देंगेः मांझी

पैसे में कटौती हुई तो केंद्रीय मंत्रियों को बिहार में घुसने नहीं देंगेः मांझी

मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने बड़े ही तल्ख अंदाज में बुधवार को कहा कि केंद्र सरकार अगर बिहार को शौचालय के मद में मिलने वाली राशि में कटौती करती है, तो बिहार कोटे से केंद्र में मंत्री सात मंत्रियों (सतभइया) को बिहार में प्रवेश करने नहीं देंगे। शौचालय निर्माण के लक्ष्य को अगर केंद्र की मदद नहीं मिली तो उनकी सरकार दूसरी योजनाओं में कटौती कर शौचालय निर्माण के लिए लोगों को राशि उपलब्ध कराएगी। एसके मेमोरियल हाल में विश्व शौचालय दिवस पर जीविका द्वारा आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने यह बात कही।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में शौचालय निर्माण के लिए पहले केंद्र ने कहा कि प्रति शौचालय पंद्रह हजार देंगे, जिसे घटाकर 12 हजार कर दिया गया पर अब अगर बारह हजार को घटाकर दस हजार किया गया तो बर्दाश्त नहीं होगा। सामाजिक और शैक्षणिक क्षेत्र में लाख प्रयास के बाद भी गरीब पिछड़ते जा रहे हैं। खर्च तो खूब हो रहा है पर उसका परिणाम नहीं आ रहा है। इस पर विचार करने की आवश्यकता है।

सरकार स्वच्छता की दिशा में काम कर रही है पर लोगों को भावनात्मक रूप से इससे जुड़ना होगा। आजादी के 68 वर्ष बीत गए हैं और अगर लोग भावनात्मक रूप से नहीं जुड़े तो अगले 68 वर्षो में भी स्थिति नहीं सुधर पाएगी। गरीबी का एक बड़ा कारण स्वच्छता का नहीं रहना भी है।

मांझी ने कहा कि नरेंद्र मोदी के जुमले की तर्ज पर ही वह यह कह रहे हैं कि अगर बिहार के 11 करोड़ लोग तैयार हो जाएं तो बिहार में गंदगी रहने देंगे क्या? इस मौके पर ग्रामीण विकास मंत्री नीतीश मिश्रा, लोकस्वास्थ्य अभियंत्रण मंत्री डॉ. महाचंद्र प्रसाद सिंह व पंचायती राज मंत्री विनोद यादव के अतिरिक्त कई आला अधिकारी भी मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:केंद्रीय मंत्रियों को बिहार घुसने नहीं देंगेः मांझी