DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देश में इबोला का पहला मरीज मिला, जांच जारी

देश में इबोला का पहला मामला सामने आया है। लाइबेरिया से वापस लौटा 26 वर्षीय भारतीय युवक मेडिकल परीक्षण में इबोला से संक्रमित पाया गया है। उसे दिल्ली हवाईअड्डे पर एक विशेष केंद्र में अलग-थलग रखा गया है।

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया,‘10 नवंबर को दिल्ली पहुंचे इस युवक का अफ्रीकी देश में इस खतरनाक बीमारी के संक्रमण के लिए इलाज किया गया था और उसमें इसके कोई लक्षण नजर नहीं आ रहे थे। हालांकि उसके वीर्य की जांच के परिणाम पॉजिटिव आए हैं, जिसके कारण उसे अलग रखा गया है।’

स्वस्थ होने का प्रमाणपत्र: भारत में यह इबोला का पहला पुष्ट मामला है । हालांकि यह युवक विदेश में संक्रमण का शिकार हुआ और वहीं उसका इलाज भी हुआ। युवक के पास लाइबेरिया की सरकार की ओर से इलाज किए जाने और उसके स्वस्थ होने का प्रमाणपत्र भी है।

बरत रहे सावधानी: मंत्रालय ने एक बयान में कहा गया है कि स्थिति नियंत्रित है और चिंतित होने की कोई आवश्यकता नहीं है। इस संबंध में सभी एहतियात बरते जा रहे हैं। मंत्रालय के अनुसार, इस तथ्य की पुष्टि हो चुकी है कि स्वास्थ्य लाभ के दौरान भी इबोला से संक्रमित व्यक्ति के शरीर से निकलने वाले द्रव्य में अलग अलग अवधि तक विषाणु मौजूद रहते हैं।

मंत्रालय के अनुसार, इस युवक के शारीरिक द्रव्य की जांच में इबोला का प्रभाव निगेटिव आने तक वह दिल्ली हवाईअड्डा के विशेष स्वास्थ्य केंद्र में रहेगा। हालांकि इस युवक के खून के तीन नमूनों और सीमेन की जांच में इबोला के लक्षण नहीं पाए गए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:देश में इबोला का पहला मरीज मिला, जांच जारी