DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोमी एकता सप्ताह का आयोजन किया जाएगा

साम्प्रदायिक सदभाव और राष्ट्रीय एकता के महत्त्व के विषय में आम जनता को जागरूक करने के लिए 19 से 25 नवंबर तक गुड़गांव जिले में कोमी एकता सप्ताह का आयोजन किया जाएगा। इस सप्ताह के दौरान की जाने वाली गतिविधियों को लेकर उपायुक्त शेखर विद्यार्थी ने मंगलवार को अपने कार्यालय में संबंधित अधिकारियों तथा शिक्षण संस्थाओं के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की।

बैठक की अध्यक्षता करते हुए विद्यार्थी ने कहा कि इस सप्ताह के दौरान आम जनता, स्कूली बच्चों को सांप्रदायिक सदभाव तथा राष्ट्रीय एकता का महत्त्व बताने के लिए विभिन्न प्रकार की गतिविधियां आयोजित की जाएंगी। उन्होंने शिक्षण संस्थाओं के प्रतिनिधियों को आदेश दिए कि वे सभी स्कूलों तथा कॉलेजो में ये गतिविधियां करवाएं। जिसमें सुबह रैलियों, कार्यशाला का आयोजन करना, पेंटिंग, निबंध लेखन, वाद-विवाद प्रतियोगिताएं तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम शामिल हों। 19 नवंबर को सुबह की प्रार्थना के दौरान विद्यार्थियों को कोमी एकता सप्ताह के आयोजन के बारे में विस्तार से जानकारी दी जाए। पूरे सप्ताह की जाने वाली गतिविधियों और प्रतियोगिताओं के बारे में भी बताया जाए। इसके बाद 20 नवंबर को कार्यशाला का आयोजन करें और 21 नवंबर को पेंटिंग, 22 नवंबर को निबंध लेखन, 24 नवंबर को वाद-विवाद प्रतियोगिता तथा 25 नवंबर को सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित करवाएं। ये सभी प्रतियोगिताएं राष्ट्रीय एकता तथा सांप्रदायिक सदभाव के विषयों पर होनी चाहिए। फरूखनगर, सोहना, पटौदी और हेलीमंडी में राष्ट्रीय एकता का संदेश देने के लिए विद्यार्थियों की रैलियां निकाली जा सकती हैं। उन्होंने यह भी कहा कि सप्ताह के दौरान प्रति दिन की गई गतिविधि की फोटो तथा विवरण जिला शिक्षा अधिकारी को ई-मेल से भेंजे।

स्वैच्छिक दान भी दें
इस सप्ताह के दौरान बेसहारा तथा अनाथ बच्चों की मद्द के लिए विद्यार्थियों आम जनता तथा स्टॉफ सदस्यों से स्वैच्छिक दान भी प्राप्त करें। इसके लिए 25 नवंबर को फ्लैग डे के रूप में मनाया जाएगा। दान की गई राशि पर धारा 80 जी के तहत आय कर मे छूट भी मिलेगी। उन्होंने जिलावासियों से अपील की कि वे उदारता से इस फंड मे दान करें। उन्होंने सभी अधिकारियों तथा शिक्षण संस्थाओं के प्रमुखों से कहा कि वे दान के रूप में जो भी राशि प्राप्त करें उसकी सूची अवश्य बनाएं और जो व्यक्ति जितना दान करे उसके नाम के आगे उतनी राशि लिख दें। इसके बाद सूची तथा राशि अतिरिक्त उपायुक्त पुष्पेंद्र सिंह चौहान के पास भिजवा दें। उन्होंने कहा कि सप्ताह के दौरान पूरे गुड़गांव जिला में विभिन्न संस्थाओं द्वारा एकत्रित की गई राशि को राष्ट्रीय साम्प्रदायिक सदभाव प्रतिष्ठान नई दिल्ली में भेजा जाएगा। यह प्रतिष्ठान भारत सरकार के गृह मंत्रलय के अधीन एक स्वायत निकाय के रूप में चलाया जा रहा है। राशि का प्रयोग इस संस्था द्वारा सांप्रदायिक, जातीय, धार्मिक या आतंकवादी हिंसा की वजह से यतीम हुए बच्चाों के पुनर्वास के लिए, उनकी देखभाल, शिक्षा तथा प्रशिक्षण पर खर्च किए जाएंगे। बैठक में कई विभागों अधिकारी उपस्थित थे।
गुड़गांव। कार्यालय संवाददाता
साम्प्रदायिक सदभाव और राष्ट्रीय एकता के महत्त्व के विषय में आम जनता को जागरूक करने के लिए 19 से 25 नवंबर तक गुड़गांव जिले में कोमी एकता सप्ताह का आयोजन किया जाएगा। इस सप्ताह के दौरान की जाने वाली गतिविधियों को लेकर उपायुक्त शेखर विद्यार्थी ने मंगलवार को अपने कार्यालय में संबंधित अधिकारियों तथा शिक्षण संस्थाओं के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की।

बैठक की अध्यक्षता करते हुए विद्यार्थी ने कहा कि इस सप्ताह के दौरान आम जनता, स्कूली बच्चों को सांप्रदायिक सदभाव तथा राष्ट्रीय एकता का महत्त्व बताने के लिए विभिन्न प्रकार की गतिविधियां आयोजित की जाएंगी। उन्होंने शिक्षण संस्थाओं के प्रतिनिधियों को आदेश दिए कि वे सभी स्कूलों तथा कॉलेजो में ये गतिविधियां करवाएं। जिसमें सुबह रैलियों, कार्यशाला का आयोजन करना, पेंटिंग, निबंध लेखन, वाद-विवाद प्रतियोगिताएं तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम शामिल हों। 19 नवंबर को सुबह की प्रार्थना के दौरान विद्यार्थियों को कोमी एकता सप्ताह के आयोजन के बारे में विस्तार से जानकारी दी जाए। पूरे सप्ताह की जाने वाली गतिविधियों और प्रतियोगिताओं के बारे में भी बताया जाए। इसके बाद 20 नवंबर को कार्यशाला का आयोजन करें और 21 नवंबर को पेंटिंग, 22 नवंबर को निबंध लेखन, 24 नवंबर को वाद-विवाद प्रतियोगिता तथा 25 नवंबर को सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित करवाएं। ये सभी प्रतियोगिताएं राष्ट्रीय एकता तथा सांप्रदायिक सदभाव के विषयों पर होनी चाहिए। फरूखनगर, सोहना, पटौदी और हेलीमंडी में राष्ट्रीय एकता का संदेश देने के लिए विद्यार्थियों की रैलियां निकाली जा सकती हैं। उन्होंने यह भी कहा कि सप्ताह के दौरान प्रति दिन की गई गतिविधि की फोटो तथा विवरण जिला शिक्षा अधिकारी को ई-मेल से भेंजे।

स्वैच्छिक दान भी दें
इस सप्ताह के दौरान बेसहारा तथा अनाथ बच्चों की मद्द के लिए विद्यार्थियों आम जनता तथा स्टॉफ सदस्यों से स्वैच्छिक दान भी प्राप्त करें। इसके लिए 25 नवंबर को फ्लैग डे के रूप में मनाया जाएगा। दान की गई राशि पर धारा 80 जी के तहत आय कर मे छूट भी मिलेगी। उन्होंने जिलावासियों से अपील की कि वे उदारता से इस फंड मे दान करें। उन्होंने सभी अधिकारियों तथा शिक्षण संस्थाओं के प्रमुखों से कहा कि वे दान के रूप में जो भी राशि प्राप्त करें उसकी सूची अवश्य बनाएं और जो व्यक्ति जितना दान करे उसके नाम के आगे उतनी राशि लिख दें। इसके बाद सूची तथा राशि अतिरिक्त उपायुक्त पुष्पेंद्र सिंह चौहान के पास भिजवा दें। उन्होंने कहा कि सप्ताह के दौरान पूरे गुड़गांव जिला में विभिन्न संस्थाओं द्वारा एकत्रित की गई राशि को राष्ट्रीय साम्प्रदायिक सदभाव प्रतिष्ठान नई दिल्ली में भेजा जाएगा। यह प्रतिष्ठान भारत सरकार के गृह मंत्रलय के अधीन एक स्वायत निकाय के रूप में चलाया जा रहा है। राशि का प्रयोग इस संस्था द्वारा सांप्रदायिक, जातीय, धार्मिक या आतंकवादी हिंसा की वजह से यतीम हुए बच्चाों के पुनर्वास के लिए, उनकी देखभाल, शिक्षा तथा प्रशिक्षण पर खर्च किए जाएंगे। बैठक में कई विभागों अधिकारी उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोमी एकता सप्ताह का आयोजन किया जाएगा