DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हर जिले में खुलेगा सरकारी अंग्रेजी माध्यम स्कूल

यूपी सरकार अब हर जिले में एक अंग्रेजी माध्यम स्कूल खोलेगी। बेसिक शिक्षा मंत्री राम गोविंद चौधरी के साथ हुई उच्चस्तरीय बैठक में यह फैसला लिया गया। बेसिक शिक्षा सचिव हीरालाल गुप्ता ने इस फैसले की जानकारी देते हुए बताया कि इसके साथ ही सरकारी प्राइमरी स्कूलों में कक्षा एक से ही अनिवार्य रूप से अंग्रेजी पर ज्यादा जोर दिया जाएगा।

अभी तक कक्षा एक में अंग्रेजी पढ़ाई तो जाती है लेकिन उस पर जोर नहीं दिया जाता। चूंकि, विद्यार्थी ग्रामीण परिवेश से सीधे कक्षा एक में आते हैं। इसलिए वे हिन्दी ज्यादा बेहतर तरीके से समझते हैं और इसलिए शिक्षक अंग्रेजी में अक्षरज्ञान से आगे ही नहीं बढ़ते। सरकार ने तय किया है कि अब ऐसा नहीं होगा। 

वहीं, अब हर जिले में अंग्रेजी माध्यम स्कूल खोलने के लिए व्यापक नियम व शर्तें विभाग तय करेगा। यह भी तय होगा कि इसमें क्या और कैसे पढ़ाया जाएगा और इसमें किस तरह के शिक्षकों की तैनाती होगी क्योंकि अभी तक जो शिक्षक नियुक्त होते हैं, उनके शिक्षण के माध्यम को लेकर कोई बाध्यता नहीं है।

श्री चौधरी कई बार अपने भाषणों व बयानों में अपनी इच्छा जाहिर कर चुके हैं कि सरकारी प्राइमरी स्कूलों के बच्चे भी निजी स्कूलों के विद्यार्थियों से कदमताल कर सके। अपनी इसी मंशा को पूरा करने के लिए उन्होंने हर जिले में एक अंग्रेजी माध्यम स्कूल शुरू करने का फैसला लिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हर जिले में खुलेगा सरकारी अंग्रेजी माध्यम स्कूल