DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खून-खराबे की पैदाइश हैं आजम खां: सिंघल

विहिप सुप्रीमो अशोक सिंहल ने कहा है कि देश को महाशक्ति बनाने के लिए हिन्दू-मुस्लिम के बीच सामंजस्य जरुरी है। उन्होंने कहा कि मुस्लिम समाज यदि अयोध्या, काशी व मथुरा पर अपना दावा छोड़ दे तो आपसी सौहार्द का वातारण सृजित होगा और पूरी दुनिया में शांति की स्थापना हो जाएगी।

सिंघल कारसेवकपुरम में संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने सपा के वरिष्ठ नेता एवं प्रदेश के नगर विकास मंत्री मो. आजम खां के सम्बन्ध में पूछे गए सवाल पर कहा कि आजम खां खून-खराबे की पैदाइश हैं। उन्हें यह मालूम होना चाहिए कि जेहाद के दिन अब नहीं रह गए है। उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया आतंकवाद के खिलाफ खड़ी हो चुकी है।

वयोवृद्ध विहिप नेता श्री सिंघल ने कहा कि हजारों सालों के इतिहास में हिन्दू समाज ने कभी भी जेहादी प्रकृति का परिचय नहीं दिया। उन्होंने कहा कि हिन्दू समाज की सहनशीलता का इससे बड़ा प्रमाण और क्या हो सकता है कि राम जन्मभूमि को तोड़कर वहां मस्जिद बनाए जाने के बाद भी साढ़े चार सौ साल तक वह अपमान बर्दाश्त करता रहा।

उन्होंने एक अन्य सवाल के जवाब में कहा कि राम मंदिर का निर्माण भगवान का कार्य है और उनके ही आदेश से काम हो रहा है। उन्होंने कहा कि भगवद प्रेरणा से ही नरेन्द्र मोदी भी मंदिर निर्माण के काम में सहयोगी बनेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:खून-खराबे की पैदाइश हैं आजम खां: सिंघल