DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूर्व विधायक अनार सिंह दिवाकर ने अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर से आत्महत्या की

जलेसर से सपा के पूर्व विधायक अनार सिंह दिवाकर ने शहर के होटल शिखर में रविवार सुबह अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। उन्होंने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है जिसमें दिल्ली में रहने वाले पांच लोगों को इसके लिए जिम्मेदार बताते हुए उनके नामों का खुलासा किया है। उनके साथ कारोबार करने वाले इन लोगों पर 350 करोड़ रुपये का गोलमाल करने का आरोप लगाया गया है। पुलिस ने होटल को सील कर शव को पोस्टमार्टम को भिजवाया दिया है।  

जनपद कासगंज के थाना अमांपुर के गांव रानामऊ निवासी पूर्व विधायक अनार सिंह दिवाकर (57) शनिवार की दोपहर करीब साढ़े तीन बजे किराये की गाड़ी से होटल शिखर में रुकने के लिए आए थे। होटल पर तैनात मैनेजर ने उन्हें दूसरे तल के कमरा संख्या 403 आवंटित किया था। कमरे में जाने के बाद शाम तक वह कमरे से बाहर नहीं निकले। रविवार की सुबह करीब सवा छह बजे उन्होंने होटल की किचिन में फोन पर चाय लाने का आर्डर दिया। मोनू नाम के वेटर ने उन्हें चाय दी। होटल के मैनेजर प्रवेंद्र ने बताया कि सुबह करीब नौ बजे अनार सिंह से नाश्ता का आर्डर लेने के लिए गया था। इस समय कमरे का गेट हल्का सा खुला हुआ था। जैसे ही उसने कमरा खोलकर अंदर प्रवेश किया सामने बैड पर पूर्व विधायक बेड पर खून से लथपथ एक ओर झुके हुए पड़े थे। रिवाल्वर उनके सीधे हाथ के पास पड़ी हुई थी। वेटर ने तुरंत इस मामले की जानकारी काउंटर पर बैठे मैनेजर को दी।

कुछ ही देर में पूरा स्टाफ एकत्रित हो गया। जानकारी मिलने पर होटल स्वामी सुनील यादव ने इसकी  सूचना फोन पर एसएसपी एसके वर्मा को दी। पूर्व विधायक के मौत की खबर मिलते ही हड़कंप मच गया। एसएसपी, एएसपी, सीओ सिटी, कोतवाली नगर पुलिस के अलावा पीएसी होटल पर पहुंच गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच शुरू कर दी। इसके बाद मामले की जानकारी उनके परिजनों को दी गई। देरशाम पत्नी ऊषा दिवाकर, पुत्र, पुत्री दामाद सहित सभी परिजन मौके पर पहुंच गए। पूर्व विधायक ने छोड़े सुसाइट नोट में आसार खान,रिहान फारुख निधौली वाले,आदित्य रंजन सिंह, श्रीकांत, बीडी त्रिपाठी पर 350 करोड़ रुपये के गबन का आरोप लगाते हुए लिखा है कि इन लोगों ने मुङो बर्बाद कर दिया। सुसाइड नोट में उन्होंने मामले की सीबीआई जांच कराने जाने के लिए भी लिखा है।


जलेसर से चुने गए सपा के विधायक
अनार सिंह दिवाकर वर्ष 2002 में सपा से जलेसर विधानसभा क्षेत्र से विधायक चुने गए थे। लेकिन 2007 के विधान सभा चुनाव में वे हार गए थे। वर्ष 2009 में सपा से हाथरस लोकसभा क्षेत्र से सपा की टिकट पर चुनाव लड़ा था। 2012 में सपा से टिकट कटने पर कांग्रेस से जलेसर क्षेत्र से ही चुनाव लड़े थे। इस चुनाव के बाद इसी वर्ष हुए लोकसभा चुनाव में फिर से फिरोजाबाद में रामगोपाल यादव की मौजूदगी में सपा में शामिल हो गए थे। मैनपुरी में हुए लोकसभा के उपचुनाव में प्रचार करने के लिए भी गए थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पूर्व विधायक अनार सिंह दिवाकर ने अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर से आत्महत्या की