DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साइबर सेल के हत्थे चढ़े दो ठग, चार फरार

एंश्योरेंस मैनेजर बन ठगी करने वाले गिरोह का साइबर सेल ने खुलासा कर दिया है। सेल ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेजा है तो दूसरे को नाबालिग होने के कारण नोटिस देकर अदालत के सामने पेश होने के लिए कहा गया है। विभिन्न जिलों के चार ठग अभी फरार हैं। उनकी तलाश में दबिशें दी जा रही रही हैं।

तीन माह पहले कोतवाली थाना क्षेत्र के मोहल्ला पकड़िया निवासी मोहम्मद हबीब की ओर से दर्ज करवाए गए मुकदमे में कहा गया था कि उनके पाए एक अज्ञात व्यक्ति का फोन आया था। फोन करने वाले ने बताया कि वह दिल्ली से बोल रहा है और एक बड़े बैंक की बीमा कंपनी का मैनेजर है। उन्होंने कंपनी की सेवाएं खराब होने की बात कही साथ ही उनसे उनकी पालिसी के बारे में विस्तार से जानकारी की। उनकी एक पॉलिसी की कुछ किस्तें शेष रह गईं थीं। फोन करने वाले ने बताया कि इस समय कंपनी ने विशेष स्कीम चला रखी है। आफर के तहत अगर कोई व्यक्ति अपनी सभी शेष किश्तें जमा करता है तो उसे समय से पहले क्लेम का पूरा पैसा दे दिया जाएगा। ठगों को सच में बीमा कंपनी का मैनेजर मान कर उन्होंने तीन अलग अलग खातों में एक लाख 40 हजार रुपए डाल दिए। क्लेम पाने के लिए उन्होंने उन नंबरों पर दोबारा संपर्क किया तो संपर्क नहीं हो पाया। इसके बाद उन्होंने कोतवाली में घटना की रिपोर्ट दर्ज करवा दी। मामला साइबर क्राइम से जुड़ा होने के कारण विवेचना साइबर सेल प्रभारी सुधीर त्यागी को सौंपी गई। ठगी में इस्तेमाल हुई सिम का पता निकाला गया तो नोएडा, बलिया, दिल्ली, गाजियाबाद के पते निकले। मेरठ के गांव खरगोदा निवासी आमिर खान, हापुड़ निवासी मोहन, नोएडा निवासी एक इंटर के छात्र, बलिया निवासी स्वामी नाथ, दिल्ली के लक्ष्मी नगर निवासी सलीम और रेहान का नाम प्रकाश में आया। शनिवार रात को साइबर सेल प्रभारी ने मय टीम छापा मार कर आमिर और नाबालिग इंटर के छात्र को पकड़ लिया। नाबालिग होने के कारण इंटर के छात्र को नोटिस दिया गया और आमिर को साइबर सेल अपने साथ पीलीभीत ले आई और कोतवाली में बंद कर दिया। रविवार को उसका चालान कर दिया गया। छह आरोपी अभी फरार हैं उनकी तलाश में दबिशें दी रही हैं।
---------------------
आरोपी की बिगड़ी हालत...
साइबर सेल के शिकंजे में फंसे आमिर की शनिवार रात को कोतवाली थाने में हालत बिगड़ गई। जिस कारण उसे तुरन्त ही लाकर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। रविवार सुबह को जिला अस्पताल में उसकी हालत में पूरी तरह सुधार आ गया। जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:साइबर सेल के हत्थे चढ़े दो ठग, चार फरार