DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुजफ्फरपुर में लीची-लहठी व पटना में प्रिंटिंग क्लस्टर बनाएगी केंद्र सरकार

केंद्रीय सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्री गिरिराज सिंह ने रविवार को कहा कि राज्य सरकार कच्चे माल पर लगने वाले चार फीसदी इंट्री टैक्स को खत्म करे। झारखंड ने इस तरह के टैक्स को खत्म कर दिया है। इंट्री टैक्स की वजह से बिहार के उद्यमियों के उत्पाद की कीमत बढ़ जाती है। इस कारण वे प्रतिस्पर्धा से बाहर हो जाते हैं।

 सिंह ने कहा कि सरकार अगर इंट्री टैक्स खत्म नहीं करना चाहती है तो ऐसी नीति बनाए कि आपूर्ति के लिए होने वाली निविदा में ही बिहार के उद्यमियों को चार फीसदी की छूट मिल जाए। पाटलिपुत्र कालोनी स्थित सुक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्रलय के दफ्तर में अपने अभिनंदन में आयोजित कार्यक्रम के बाद संवाददाताओं से बातचीत में केंद्रीय राज्य मंत्री ने कहा कि सरकार को दूरदृष्टि अपनानी चाहिए। झारखंड में डीजल व पेट्रोल पर कर कम है। इस वजह से पेट्रोल-डीजल वहां सात प्रतिशत सस्ता है। यहां टैक्स देने वाली मुर्गी को ही सरकार हलाल करना चाहती है।

उन्होंने कहा कि उनका मंत्रलय मुजफ्फरपुर में लहठी-लीची तथा पटना में पिंट्रिंग क्लस्टर बनाएगा। इसी तरह औषधीय व सुगंधित पौधों के व्यावसायिक उपयोग के प्रशिक्षण को ले बिहटा में एक संस्थान स्थापित किया जाएगा। राज्य सरकार ने इसके लिए जमीन उपलब्ध करा दी है। पटना में स्थापित हो रहा टूल सेंटर भी शीघ्र आरंभ हो जाएगा।


परेव पीतल उद्योग पर उर्जा सचिव से बात की
केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि बिहार सरकार ऐसा कानून लाए जिसमें सूक्ष्म, लघु व मध्यम औद्योगिक इकाइयों से अनिवार्य रूप से बीस प्रतिशत की खरीदारी हो। परेव में पीतल के बर्तन बनाने वाले उद्यमियों के बीच बकाया भुगतान को लेकर कटी बिजली के संबंध में उन्होंने ऊर्जा विभाग के सचिव प्रत्यय अमृत से बात की है। सेटलमेंट को लेकर बात हुई है। उल्लेखनीय है कि ‘हिन्दुस्तान’ ने 16 नवंबर के अंक में बिजली की कमी और अन्य कारणों से परेव का पीतल उद्योग संकट से संबंधित खबर प्रकाशित की थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुजफ्फरपुर में लीची-लहठी व पटना में प्रिंटिंग क्लस्टर बनाएगी केंद्र सरकार