DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चापानल के लिए साढ़े छह करोड़?3द्वद्यज्ठ्ठड्डद्वद्गह्यश्चड्डष्द्ग श्चrद्गथ्न्3 = o ठ्ठह्य = ह्वrठ्ठज्ह्यष्द्धद्गद्वड्डह्य-द्वन्ष्roह्यoथ्ह्ल-ष्oद्वज्oथ्थ्न्ष्द्गज्oथ्थ्न्ष्द्ग

गर्मी में पेयजल संकट को देखते हुए राज्य सरकार ने स्थानीय नगर निकायों के माध्यम से 1740 नये चापानल लगाने के लिए छह करोड़ 52 लाख का आवंटन किया है। यह राशि वित्त वर्ष 2007-08 के लिए आवंटित की गयी है। रांची, धनबाद और देवघर में सर्वाधिक 100-100 चापानल लगाये जायेंगे। भीषण गर्मी शुरू होने के बावजूद अब तक एक भी नया चापानल लगने की जानकारी नहीं है। मिली जानकारी के अनुसार रांची नगर निगम क्षेत्र में सौ चापानल लगाने के लिए 37,400 रुपये का आवंटन किया गया है। इतनी ही राशि धनबाद नगर निगम और देवघर नगर पालिका को दी गयी है। सरायकेला, पाकुड़ और चाकुलिय अधिसूचित क्षेत्र में 10-10 चापानल लगाने की स्वीकृति दी गयी है। एक इलाके को 3,74,0 रुपये दिये गये हैं। गिरिडीह, गोड्डा और गढ़वा नगरपालिका क्षेत्र में 20-20 चापानल लगाने के लिए प्रत्येक को 7,40 दिये गये हैं। जामताड़ा, लोहरदगा, मधुपुर नगरपालिका, खरसंवा, बुंडू, मिहिााम, हुसैनाबाद अधिसूचित क्षेत्र में 40-40 चापानल लगाने के लिए प्रत्येक को 14,0 रुपये दिये गये हैं। दुमका, साहेबगंज, चाईबासा और चतरा नगर पालिका, चिरकुंडा, फुसरो, बासुकीनाथ, राजमहल, खूंटी और मानगो अधिसूचित क्षेत्र में 50-50 चापानल लगाने के लिए प्रत्येक को 18,74,600 रुपये दिये गये हैं। चास में 60 चापानल के लिए 22,40 का आवंटन किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: चापानल के लिए साढ़े छह करोड़?3द्वद्यज्ठ्ठड्डद्वद्गह्यश्चड्डष्द्ग श्चrद्गथ्न्3 = o ठ्ठह्य = ह्वrठ्ठज्ह्यष्द्धद्गद्वड्डह्य-द्वन्ष्roह्यoथ्ह्ल-ष्oद्वज्oथ्थ्न्ष्द्गज्oथ्थ्न्ष्द्ग