class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोशालाओं की दशा सुधारगा कल्याण बोर्ड

भारतीय जीव जंतु कल्याण बोर्ड, चेन्नई झारखंड स्थित गोशालाओं की दशा सुधारगा। इसके लिए गोशालाओं को सालाना ग्रांट भी दिया जायेगा। बोर्ड चाकुलिया, रांची, कतरास और पाकुड़ की गोशालाओं को 25-25 लाख रुपये देगा। बोर्ड के सदस्य महेंद्र कुमार बम ने 2अप्रैल को प्रेस को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि निबंधित और तीन साल पुरानी संस्था को ग्रांट देने का प्रावधान है। इसमें उसे भी 10 फीसदी राशि लगानी होगी। ग्रांट पशु संख्या के आधार पर दिये जायेंगे। बोर्ड राज्यों में एनिमल वेलफेयर अफसर भी नियुक्त करगा। यह पशु तस्करी पर रोक लगाने का काम करंगे। ऐसे पशुओं को पकड़कर गोशाला को सौंपेगे। झारखंड गो सेवा आयोग के पुरुषोत्तम झुनझुनवाला ने बताया कि तस्करी के दौरान पकड़े गये वयस्क पशु की खुराक के लिए प्रतिदिन दस एवं छोटे के लिए सात रुपये छह माह तक दिये जायेंगे। राज्य में अभी 23 गोशालाएं हैं। सभी के निबंधन का काम शुरू हो गया है। नयी गौशाला के स्थापना के लिए पांच लाख की वित्तीय सहायता दी जायेगी। उन्नत देसी नस्ल की सांढ़ एवं गाय खरीदने के लिए भी सहायता दी जायेगी। उन्होंने कहा कि पूर्व पशुपालन सचिव राजबाला वर्मा, नियमावली और संसाधन के अभाव में डेढ़ वर्ष आयोग काम नहीं कर सका। अब सब कुछ ठीक हो गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गोशालाओं की दशा सुधारगा कल्याण बोर्ड