DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिजली उत्पादन यूनिट के उद्घाटन में पीएम आते तो अच्छा होता

पूर्व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को कांटी और बाढ़ में बिजली उत्पादन इकाइयों के उद्घाटन को बिहार के लिए अच्छा दिन बताया। उन्होंने कहा कि जब वे केंद्र में मंत्री थे तो श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी ने प्रधानमंत्री रहते बाढ़ सुपर थर्मल पावर परियोजना का शिलान्यास किया था। अच्छा होता, यदि आज नये पीएम आते। यह अटलजी के काम व समर्पण का अभिनंदन होता। यहां नहीं आये, खैर उनका फैसला है।

उन्होंने बाढ़ यूनिट को व्यक्तिगत खुशी वाला क्षण बताया और कहा कि आज भी उन्हें 6 मार्च, 1999 याद है, जब इसका शिलान्यास हुआ। हालांकि तब लोगों को यकीन नहीं हो रहा था और कहा गया यह कभी चालू नहीं होगा। तमाम बाधाएं भी आईं, उन्हें लोगों से जमीन मांगनी पड़ी। कोयला खदान से 250 किमी दूरी होने पर रेल लाइन चालू करानी पड़ी। आज सुखद अवसर आया है तो वे एनटीपीसी, बिहार सरकार, राज्य की जनता और केंद्र सरकार को बधाई देते हैं। बची यूनिट का काम भी जल्द पूरा हो तो और खुशी होगी। हालांकि उद्घाटन से संबंधित समाचार पत्रों में छपे विज्ञापन में खुद की उपेक्षा को ले पूर्व सीएम थोड़े नाराज भी नजर आये। उन्होंने कहा कि जीतन राम मांङी तो पूरे प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं, लेकिन विज्ञापन में उन्होंने कई लोगों का थोबड़ा देखा है। जो भी पीठ थपथपा लें, उन्हें यूनिट चालू होने की खुशी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिजली उत्पादन यूनिट के उद्घाटन में पीएम आते तो अच्छा होता