DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एक हफ्ते में बस 28 करोड़ बहुत नाइंसाफी है...

एक हफ्ते में बस 28 करोड़ बहुत नाइंसाफी है...

एकता कपूर की तरह अब किफायती निर्माताओं में अभिनेता अक्षय कुमार का नाम भी जुड़ गया है। एकता कपूर की लिस्ट के मुताबिक किफायती निर्माता का मतलब है केकेके यानी कम बजट में कमाल का कलेक्शन करने वाली फिल्म। अपने बैनर के धारावाहिकों में काम करने वाले चार-छह कलाकारों को इकट्ठा करो, एक-दो बड़े सितारे लो, प्रोडक्शन हाउस घर का है ही और बना डालो किफायती फिल्म।
 
ठीक इसी तरह से किफायती फिल्म बनाने का चस्का अक्की बाबा को भी लग गया है। अक्षय की फिल्म उनके नाम से ही अच्छी ओपनिंग ले लेगी, ये सब जानते हैं। और जब अक्की खुद निर्माता हों तो फिर फिल्म में नाम का ही खर्चा आएगा। अब रही सस्ती लोकेशन की बात तो मॉरिशस से सस्ती लोकेशन क्या होगी! फिल्म की कहानी किसी पुरानी फिल्म से उठा लो। एक नई एक्ट्रेस ले लो, जो आपके साथ काम करने के लिए मरी सी जा रही हो और तीन-चार आर्टिस्ट। हनी सिंह के गाने होंगे तो फिल्म लाइमलाइट में आ ही जाएगी। लो जी, बन गयी किफायती फिल्म!

पिछले हफ्ते रिलीज हुई अक्षय कुमार और लीजा हेडन की फिल्म ‘दि शौकीन्स’ के साथ भी यही हुआ लगता है। अक्षय कुमार का खर्चा निकाल दें तो ये फिल्म 15-20 करोड़ से ज्यादा की नहीं लगती। मार्केट में तो कई लोग इसकी कीमत और कम बता रहे थे। अब सुनिये इसका कलेक्शन। फिल्म को उम्मीद के मुताबिक ओपनिंग नहीं मिली। पहले दिन यही कोई 16-17 करोड़ रुपये का कलेक्शन हुआ और वीकएंड गया करीब 20-22 करोड़ के आस-पास। सोमवार-मंगलवार तक आते-आते फिल्म ने दम तोड़ना शुरू कर दिया और एक हफ्ते का कलेक्शन दर्ज किया गया करीब 27-28 करोड़ रुपये। अब इस टोटल कलेक्शन में क्या खूबी और खामी रही, ये जांचने से पहले जरा कुछ दिलचस्प आंकड़े खंगाल लें।
इसी साल रिलीज हुई अक्षय कुमार की फिल्म ‘हॉलीडे’ को फिल्म समीक्षकों से अच्छी रेटिंग मिली थी, लेकिन इसकी ओपनिंग ‘दि शौकीन्स’ से काफी कम थी। जानकारी के अनुसार ‘हॉलीडे’ ने पहले दिन महज 12 करोड़ का कलेक्शन किया था, पर इसके अगले दिन से फिल्म के कलेक्शन में उछाल आने लगा।

जी हां, ‘हॉलीडे’ का वीकएंड कलेक्शन करीब 41 करोड़ से अधिक और एक हफ्ते का कलेक्शन करीब 68-70 करोड़ के आस-पास दर्ज हुआ था और इस फिल्म ने धीमी रफ्तार से ही सही, 100 करोड़ी क्लब में आसानी से अपनी जगह बना ली थी। इस फिल्म के हिट होने के बाद माना यही जा रहा था कि अक्की बाबा की मार्केट में दम है और वो आगे भी ऐसा ही दम दिखाते रहेंगे, लेकिन इसके बाद आयी फिल्म ‘एंटरटेनमेंट’ ने निराश किया, जिसका ओपनिंग कलेक्शन करीब 11 करोड़, वीकेंड 36 करोड़ और एक हफ्ते का कलेक्शन करीब 56 करोड़ रुपये दर्ज किया गया था। इस लिहाज से देखा जाए तो ‘दि शौकीन्स’ अक्की बाबा की इस साल की अब तक की सबसे कमजोर फिल्म है।

अब मामले में ट्विस्ट देखिये। इसके बावजूद भी कहा जा रहा है कि इस फिल्म से अक्षय फायदे में रहेंगे। हालांकि फिल्म अभी भी सिनेमाघरों पर काबिज है, इसलिए उम्मीद की जा रही है कि आने वाले एक-दो हफ्ते में ये 35-40 करोड़ तक पहुंच जाए। लेकिन इस हफ्ते रिलीज हुई फिल्म ‘किल दिल’ और अगले हफ्ते रिलीज होने वाली सैफ अली खान की फिल्म ‘हैप्पी एंडिंग’ के क्रेज को देखते हुए लगता नहीं कि ‘दि शौकीन्स’ 40-45 करोड़ तक पहुंच पाएगी।

अगर ऐसा हुआ तो ये अक्षय कुमार की हालिया फिल्मों में सबसे कमजोर फिल्म मानी जाएगी। जी हां, ‘जोकर’ से भी कम कमाई करने वाली फिल्म। पिछले हफ्ते ही रिलीज हुई फिल्म ‘रंग रसिया’ को भी बॉक्स ऑफिस पर बेहद ठंडा रिस्पॉन्स मिला। रणदीप हुड्डा और नंदना सेन की इस फिल्म में लगता है कि दर्शकों को मजा नहीं आया। हालांकि इस फिल्म को भी समीक्षकों से वाह वाही मिली थी। इसकी औसत रेटिंग 3.5 से 4 स्टार्स के बीच थी। इस फिल्म ने एक हफ्ते में महज 5 करोड़ का कलेक्शन किया। हालांकि ये फिल्म 6-7 साल पहले काफी कम बजट में बन गयी थी, लेकिन बाजार की भाषा कहती है कि लंबे समय से अटकी फिल्म जब रिलीज होती है तो ज्यादा दुख देती है।
 
इसके दूसरी ओर दूसरे हफ्ते में ‘सुपर नानी’ का कलेक्शन 5 करोड़ के आस-पास मंडराता दिखाई दिया और निर्देशक कमल सदाना की फिल्म ‘रोर : टाइगर्स ऑफ सुंदरबंस’ ने फिर चौंकाया। जी हां, इस फिल्म का कलेक्शन दूसरे हफ्ते में भी बढिया रहा। इस फिल्म ने 8 करोड़ से ज्यादा का कारोबार किया है, जो इसकी लागत निकाल देने के बाद मुनाफे की ओर जाता दिख रहा है। उधर, अपने तीसरे हफ्ते में शाहरुख खान-दीपिका पादुकोण की फिल्म ने न केवल 200 करोड़ क्लब में एंट्री पायी है, बल्कि वर्ल्डवाइड कलेक्शन के रूप में 350 करोड़ से अधिक अपने कब्जे में कर लिये हैं।     

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एक हफ्ते में बस 28 करोड़ बहुत नाइंसाफी है...