अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ठेके पर बहाल होंगे जूनियर इंचाीनियर

क्षेत्र से गायब रहने वाले इंजीनियरों पर सरकार कार्रवाई करगी। यही नहीं अनावश्यक सचिवालय का चक्कर लगाने वाले इंजीनियर भी नपेंगे। जल संसाधन मंत्री विजेन्द्र प्रसाद यादव ने मंगलवार को विभागीय योजनाओं और विकास कार्यो की समीक्षा के बाद यह निर्देश दिया। उन्होंने अधिकारियों व इंजीनियरों से बाढ़ निरोधक कार्यो को सर्वोच्च प्राथमिकता देने की अपील की और कहा कि निर्धारित शेड्यूल में सारे कार्य निश्चित रूप से पूर हो जाने चाहिए।ड्ढr ड्ढr उन्होंने विभागीय सचिव को निर्देश दिया कि जूनियर इंजीनियरों की कमी दूर करने के लिए कान्ट्रैक्ट पर इनकी बहाली की जाए। उन्होंने इसके लिए प्रस्ताव सरकार को भेजने का भी निर्देश दिया। मंत्री ने इंजीनियरों को प्रोन्नति या सेवा संबंधी अन्य मामलों में सरकार की ओर से हर सकारात्मक सहयोग का भरोसा दिलाया और उन्हें अपनी समस्याओं को लेकर विभागीय सचिव से अनुरोध करने को कहा। अलबत्ता कार्य को लेकर किसी तरह की कोताही के मामले में उन्होंने कठोर कार्रवाई की चेतावनी दी। उन्होंने स्पष्ट कहा कि कार्य की गुणवत्ता प्रभावित होने या अन्य गड़बड़ियों के लिए संबंधित प्रक्षेत्र के चीफ इंजीनियर, सुप्रीटेंडिंग इंजीनियर और एक्जक्यूटिव इंजीनियर जिम्मेवार होंगे। उन्होंने बाढ़ अवधि के दौरान किसी जगह सामग्रियों की कमी नहीं होने के लिए आवश्यक कदम उठाने को कहा। बैठक में वर्ष 2007-08 में कराए गए कार्यो की समीक्षा की गई। इसके अलावा वर्ष 2008-0ी योजनाओं के कार्यान्वयन के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया। बैठक में प्रधान सचिव अजय नायक, अभियंता प्रमुख देवी रजक, डी.के. सिंह और ब्रज भूषण प्रसाद सिंह भी मौजूद थे।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ठेके पर बहाल होंगे जूनियर इंचाीनियर