DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कानपुर को भी ‘क्लीन ग्रीन मिशन’ में शामिल किया जाए

पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा सांसद डॉ. मुरली मनोहर जोशी ने कानपुर को ‘डिफेंस हब’ के रूप में विकसित करने की वकालत की है। शुक्रवार को इस मुद्दे पर उन्होंने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से भी वार्ता की। डॉ. जोशी के मुताबिक मुख्यमंत्री ने इस पर सकारात्मक रुख दिखाया।
 
पत्रकारों से बातचीत करते हुए डॉ. जोशी ने कहा कि नए रक्षामंत्री अब उत्तर प्रदेश के सांसद हैं। प्रदेश की औद्योगिक नगरी कानपुर में हिन्दुस्तान एयरोनाटिकल्स लिमिटेड के अलावा कई आर्डिनेंस फैक्ट्रियां हैं। इसके अलावा आईआईटी भी है। ‘डिफेंस हब‘ के लिए कानपुर में उपयुक्त वातावरण है। ऐसे में यदि राज्य सरकार भूमि की उपलब्ध कराने को तैयार हो जाए तो इस दिशा में आगे बढ़ा जा सकता है। उन्होंने कहा कि कानपुर महानगर की समस्याओं को लेकर वह मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मिलने आए थे। समस्याओं पर चर्चा के दौरान कानपुर में ‘डिफेंस हब’ के मुद्दे पर भी चर्चा हुई, जिसमें मुख्यमंत्री ने सकारात्मक रुख दिखाया और अपने स्तर से सहयोग का भरोसा दिलाया।

बातचीत के दौरान डॉ. जोशी कानपुर के सांसद के रूप में अपनी भूमिका से बाहर निकलने को तैयार नहीं हुए। उन्होंने कहा कि कानपुर में समेकित यातायात नियंत्रण प्रणाली के लिए 32 करोड़ रुपए की योजना लंबित पड़ी है। इसी तरह सड़कों के चौड़ीकरण एवं सुधार कार्यो के लिए अवस्थापना मद से 62 करोड़ रुपए स्वीकृत हैं लेकिन अवमुक्त नहीं किए जा रहे हैं। चिकित्सालयों के लिए भी लगभग 30 करोड़ रुपए की दरकार है। सुगम यातायात के लिए स्वीकृत 270 बसों में से केवल 70 बसें ही चल रही हैं। अनुरक्षण के लिए धन न होने से बसें खराब हो रही हैं।

उन्होंने कहा कि शहर में कूड़ा निस्तारण की समस्या गंभीर हो गई है। जिस संस्था को यह कार्य दिया गया है, वह काम नहीं कर रही है। नगर निगम के पास भी संसाधनों का अभाव है। उन्होंने मुख्यमंत्री को इन सभी समस्याओं से अवगत कराया और उनसे कानपुर को भी ‘क्लीन ग्रीन मिशन’ में शामिल करने का अनुरोध किया। मुख्यमंत्री ने उन्हें इस मुद्दे पर विचार करने का आश्वासन दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कानपुर को भी ‘क्लीन ग्रीन मिशन’ में शामिल किया जाए