DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कैंसर पीड़ित बच्चा एक दिन का फाइटर पायलट बना

नौ वर्षीय चंदन हड्डियों के कैंसर से जूझ रहा है। 20 बार कीमो थैरेपी झेलने के बावजूद इस नन्हीं जान में फाइटर पायलट बनने का हौसला जिंदा है। बाल दिवस से पहले 11 नवंबर को वायुसेना ने उसके हौसलों को उड़ान देते हुए एक दिन का फाइटर पायलट बनाया। गुरुवार को उसका जन्मदिन था।

तीन साल पहले बिहार के समस्तीपुर से इलाज के लिए चंदन के माता-पिता उसे एम्स लाए थे। इलाज के दौरान कई रातें  सड़कों और रैनबसेरों में गुजारीं। आसमान में उड़ते हवाई जहाज देख उसकी आंखों में पायलट बनने का सपना जिंदा हो जाता। ऐसे में मां ने बेटे की ख्वाहिश, एक पत्र के माध्यम से वायुसेना को बताई। इसमें मदद की उदय फाउंडेशन ने।

वायुसेना ने गत मंगलवार अंबाला में चंदन को पायलट की वर्दी पहनाई। उसे सलामी दी गई और प्लेन में बैठाकर सपना हकीकत में बदल दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कैंसर पीड़ित बच्चा एक दिन का फाइटर पायलट बना