DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नेहरू जयंती समारोह में मोदी को न बुलाना ठीक : बेनी

नेहरू जयंती के बहाने पूर्व केंद्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा गुरुवार को मोदी सरकार पर खूब बरसे। उन्होंने सवाल उठाया कि कांग्रेस मुक्त भारत का नारा देने वाले मोदी और भाजपा नेहरू व पटेल सरीखे कांग्रेस के नेताओं की विरासत को ही हड़पने की कोशिश में जुटे हैं। वर्मा ने कहा कि मोदी को नेहरू जयंती कार्यक्रम में न बुलाया जाना उचित है।

वर्मा ने कहा कि नेहरू और सरदार पटेल के आदर्शो पर चल कर ही इस देश को विकास की दौड़ में आगे बढ़ाया जा सकता है। पंडित जवाहर लाल नेहरू प्रजातांत्रिक, धर्मनिरपेक्ष और समाजवादी सोच के नेता थे लेकिन यह दुर्भाग्य है कि देश की बागडोर ऐसे व्यक्ति के हाथ में है जो इन चीजों का विरोधी है।
पूर्व केंद्रीय मंत्री ने मोदी सरकार पर किसान, गरीब विरोधी होने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा निजी क्षेत्र के उद्योगों का उत्पादन बढ़ रहा है मगर सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियां संकट में हैं। गन्ने का मूल्य न बढ़ाए जाने को लेकर कांग्रेस नेता ने राज्य की अखिलेश सरकार पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि केंद्र का असर राज्य सरकार पर भी पड़ रहा है। सपा सरकार किसानों के बजाय मिल मालिकों को फायदा पहुंचाने में जुटी है।

मोदी ने सीएम को बना दिया मुख्य सफाई कर्मी  
प्रधानमंत्री के सफाई अभियान को महज दिखावा करार देते हुए बेनी प्रसाद वर्मा ने कहा कि केंद्र सरकार को सफाई अभियान दिख रहा है,लेकिन किसानों की महंगी होती खाद की चिंता नहीं है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को सफाई अभियान के नौ रत्नों में शामिल किए जाने के सवाल पर कांग्रेस नेता ने चुटकी लेते हुए कहा कि मोदी ने राज्य के सीएम को मुख्य सफाईकर्मी बना दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नेहरू जयंती समारोह में मोदी को न बुलाना ठीक : बेनी