DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शिवसेना ने की भाजपा सरकार बर्खास्त करने की मांग

शिवसेना ने की भाजपा सरकार बर्खास्त करने की मांग

शिवसेना ने देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार को बर्खास्त करने की मांग की है। पार्टी का आरोप है कि भाजपा की सरकार असंवैधानिक है और विश्वासमत के लिए नियमों का पालन नहीं किया गया। इसलिए दोबारा विशेष अधिवेशन बुलाकर फिर से बहुमत सिद्ध कराया जाए।

विरोधी दल के नेता एकनाथ खडसे के नेतृत्व में गुरुवार को शिवसेना विधायकों का एक समूह ने राज्यपाल से मुलाकात कर एक ज्ञापन सौंपा। कांग्रेस का भी एक शिष्टमंडल शुक्रवार को राज्यपाल से मिलकर भाजपा सरकार के खिलाफ ज्ञापन सौंपेगा।

भाजपा सरकार ने बुधवार को ध्वनिमत से बहुमत साबित किया था। इसके बाद शिवसेना और कांग्रेस ने आक्रामक रुख अपनाया है। शिवसेना ने मुंबई में रास्ता रोका आंदोलन भी किया। वहीं मुख्यमंत्री फडणवीस ने कहा है कि विश्वास प्रस्ताव के दौरान शिवसेना के आधे विधायक सदन से गैरहाजिर थे। शिवसेना को संदेह है तो अविश्वास प्रस्ताव लाएं। फडणवीस ने यह भी कहा कि शिवसेना के विधायकों में समन्वय नहीं है।

इधर बांबे हाई कोर्ट ने विश्वासमत हासिल करने के तरीके पर सवाल उठाने वाली एक याचिका को खारिज कर दिया। अदालत ने स्पष्ट किया कि राज्यपाल को सर्वाधिकार होने की वजह से अदालत इसमें दखल नहीं दे सकती है। यह याचिका जयराज पवार ने दाखिल की थी।

आरपीआई ने दी गठबंधन से हटने की धमकी
आरपीआई प्रमुख रामदास अठावले ने भाजपा से केंद्र सरकार में मंत्रिपद देने का वादा पूरा करने को कहा है और धमकी दी है कि अन्यथा महागठबंधन टूट सकता है। उन्होंने भी विश्वास प्रस्ताव की प्रक्रिया पर विरोध जताया है।

अठावले ने कहा कि लगता है कि भाजपा अपनी शानदार जीत में छोटे दलों की भूमिका को भूल गई है। उन्हें याद रखना चाहिए कि भविष्य में चार महत्वपूर्ण नगर निगम चुनाव हैं। आरपीआई नेता के मुताबिक, शिव संग्राम पार्टी के अध्यक्ष विनायक मेटे, राष्ट्रीय समाज पक्ष के महादेव जानकार और स्वाभिमानी शेतकारी संगठन के राजू शेट्टी से बातचीत हुई है और सभी ने भाजपा के कठोर रुख पर नाखुशी जताई है ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शिवसेना ने की भाजपा सरकार बर्खास्त करने की मांग