DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाजपा ने बनाया यूपी में बड़े बदलाव का खाका

भाजपा ने बनाया यूपी में बड़े बदलाव का खाका

भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने उत्तर प्रदेश में मिशन 2017 की तैयारी शुरू कर दी है। प्रदेश के नए प्रभारी ओम प्रकाश माथुर व राज्य के संगठन मंत्री सुनील बंसल ने पार्टी संगठन में व्यापक बदलाव का खाका खींच लिया है। जिला व मंडल स्तर पर सांगठनिक बदलाव शुरू हो गए है। सदस्यता अभियान समाप्त होने के बाद प्रदेश नेतृत्व में भी परिवर्तन किए जाने की संभावना है। संकेत है कि मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी की जगह किसी पिछड़े नेता को कमान सौंपी जा सकती है। दरअसल पार्टी की रणनीति अगड़ी जातियों के समर्थन को बरकरार रखते हुए पिछड़ी व दलितों के युवा नेतृत्व को साथ लाने की है।

भाजपा नेतृत्व के सामने उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनावों में मिली अप्रत्याशित सफलता को अगले विधानसभा चुनावों तक बरकरार रखने की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व भाजपा अध्यक्ष अमित शाह प्रदेश पर बारीकी से नजर रखे हुए है।

भाजपा के करीब आ सकती है अनुप्रिया
हाल में मोदी सरकार के मंत्रिपरिषद विस्तार में भावी रणनीति के तहत ही उत्तर प्रदेश से ब्राह्मण, दलित, पिछड़ा व मुसलमान को प्रतिनिधित्व दिया गया है। गौरतलब है कि मोदी सरकार में सबसे ज्यादा 13 मंत्री उत्तर प्रदेश से ही हैं। अगले चरण में पार्टी के केंद्रीय पदाधिकारियों में भी उत्तर प्रदेश से दो नए चेहरों को जगह दी जाएगी। सूत्रों के अनुसार अपना दल की अनुप्रिया पटेल अपने परिवार के अंदरूनी झगड़े में भाजपा के और करीब आ सकती है। ऐसे में भाजपा उनका भी लाभ उठा सकती है।

चाक चौबंद होगा संगठन
पार्टी का खुद भी मानना है कि लोकसभा चुनावों की सफलता का सबसे बडम कारण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद थे। उनके प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार होने व वाराणसी से चुनाव लडम्ने का अलग माहौल था, जो विधानसभा चुनावों में नहीं होगा। पार्टी के एक बड़े नेता का कहना है कि हमें राज्य में संगठन को मजबूत करने के साथ सामाजिक समीकरणों पर भी काम करना होगा। खासकर दलित व गैर यादव पिछडम वर्ग को लेकर नई रणनीति पर बनानी होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भाजपा ने बनाया यूपी में बड़े बदलाव का खाका