DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शहर के पॉश इलाकों से होने वाली थी शुरुआत, नहीं मिली अनुमति

घरों में पाइप से गैस आपूर्ति करने की शुरुआत शहर के पॉश इलाकों से होने वाली थी। अडाणी ग्रुप ने एक साल पहले ही  मेडिकल चौराहे से हाईकोर्ट, रामबाग व आलोपीबाग तक सात किलोमीटर पाइप बिछाने के लिए पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों से नुमति मांगी थी। इन इलाकों में खुदाई की अनुमति नहीं मिल पाई। सिटी स्टेशन के लिए जमीन भी नहीं मिली। इसलिए झूंसी से शुरुआत होने जा रही है।

सात किलोमीटर पड़ गई पाइप
इलाहाबाद: फूलपुर इफ्को प्लांट तक गैस पाइप लाइन आई है। इस पाइप लाइन से जोड़कर ही शहर में पीएनजी की सप्लाई होगी। 13 अगस्त से काम काफी तेजी से शुरू हुआ। बीच में वन विभाग ने काम रोक दिया। अब तक इफ्को से बाबूगंज तक लगभग सात किलोमीटर पाइप लाइन बिछ गई है।

अस्थाई छोटे स्टेशन से होगी सप्लाई
इलाहाबाद: कम्पनी अभी जमीन लेने का प्रयास कर रही है। अगर दिसम्बर तक जमीन नहीं मिल पाई तो छोटा अस्थाई सिटी गेट स्टेशन बनाकर झूंसी में पीएनजी की सप्लाई शुरू कर दी जाएगी। सिटी गेट स्टेशन के लिए ढाई बीघा जमीन की जरूरत है।

वजर्न---
पीएनजी के लिए पाइप लाइन बिछाने या स्टेशन बनाने में कोई दिक्कत आ रही है तो कम्पनी के अधिकारियों को बात करनी चाहिए। पूरा प्रकरण अभी सामने नहीं आया है। लेकिन जो भी समस्या होगी उसका समाधान कराया जाएगा।-- भवनाथ जिलाधिकारी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शहर के पॉश इलाकों से होने वाली थी शुरुआत, नहीं मिली अनुमति