अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीज आपूर्ति में ठगी की शिकायत पर कार्रवाई

बीज आपूर्ति करने वाली कंपनियों द्वारा किसानों को ठगने की शिकायतों को लेकर राज्य सरकार गंभीर है। कृषि मंत्री नागमणि ने कहा है कि अब ऐसी शिकायत मिलने पर कंपनियों को बख्शा नहीं जाएगा। मानक के अनुसार बीज की आपूर्ति नहीं करने पर उनके खिलाफ कार्रवाई होगी। कमीशन के चक्कर में अधिकारी अगर कुछ ऐसा करते हैं तो वे भी फंसेंगे। शिकायत की पुष्टि होने पर कंपनी और उसके अधिकारियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी जाएगी।ड्ढr ड्ढr उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं है कि यह कार्रवाई सिर्फ निजी क्षेत्र की कंपनियों पर होगी। सरकारी क्षेत्र के सप्लायर भी अगर ऐसी गलती करंगे तो उन्हें भी अंजाम भुगतना होगा। नागमणि ने कहा कि गत वर्ष दलसिंहसराय में बीज की गड़बड़ी के कारण कई किसानों को लाखों की क्षति हुई थी। वहां के किसानों ने तीन लाख में टमाटर का सिर्फ बीज खरीदा था। जबकि उन्हें फसल से उतनी आमदनी भी नहीं हुई थी। शिकायत थी कि बीज लगाने के बाद पौधे तो खूब लहलहाये लेकिन उनमें फल नहीं लगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कृषि क्रांति का जो सपना देखा है उसे साकार करने के लिए बीज बहुत मायने रखता है। इसी को ध्यान में रखकार राज्य बीज निगम को सब्जी के बीज उत्पादन में भी जुटने को कहा गया है। ऐसा हो जाने पर सब्जी बीज के लिए दूसर राज्यों पर किसानों की निर्भरता बहुत हद तक कम हो जाएगी। वर्तमान में सब्जी का बीज दूसर राज्यों की कंपनियां बेचती हैं। उन कंपनियों का एकाधिकार होने के कारण किसानों के पास दूसरा विकल्प नहीं होता। लेकिन शीघ्र ही एकाधिकार समाप्त होगा और राज्य बीज निगम अपना बीज लेकर बाजार में उतरेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बीज आपूर्ति में ठगी की शिकायत पर कार्रवाई