DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सुरक्षा बलों से डरा झामुमो, भाजपा का उमड़ा प्यार

चुनाव में सुरक्षा बलों से झामुमो डरा हुआ है। झामुमो के महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने मुख्य चुनाव आयुक्त वीएएस संपत से इन बलों को दहशत नहीं फैलाने का सख्त निर्देश देने का आग्रह किया है। साथ ही कहा है कि नॉर्थ-ईस्ट  से आने वाले जवानों को देखते ही ग्रामीण लोग भाग जाते हैं और मतदान नहीं करते हैं।

वहीं भाजपा ने पहले चरण के चुनाव वाले इलाके में केंद्रीय अर्धसैनिक बलों के फ्लैगमार्च की मांग की है। भाजपा की ओर से कहा गया है कि लातेहार इलाके में राजनीतिक हत्याएं हो रही हैं। अगर अधिक से अधिक अर्धसैनिक बलों को इस इलाके में नहीं लगाया गया, तो वोट प्रतिशत गिर सकता है।

भाजपा नेताओं की ओर से पूर्व महाधिवक्ता अनिल सिन्हा, प्रदेश उपाध्यक्ष राकेश प्रसाद और पूर्व सांसद अजय मारू ने मुख्य चुनाव आयुक्त के सामने राज्य सरकार की ओर से प्रशासनिक मशीनरी को अपने हित में लगाने का आरोप लगाया। पिछले चुनाव के हवाले से दुमका के डीसी और एसपी पर झामुमो के पक्ष में काम करने का आरोप लगाया। इन दोनों अधिकारियों को वहां से हटाने की मांग की गई। कांग्रेस और झामुमो की ओर से भाजपा के नेता निशाने पर रहे। राजभवन में राजनीतिक दलों के साथ मुख्य चुनाव आयुक्त की बैठक में देश के दो चुनाव आयुक्त एसएस ब्रह्म और नसीम जैदी के साथ-साथ मुख्य निर्वाचन अधिकारी पीके जाजोरिया भी मौजूद थे।

पार्टियों ने ऐसे साधा निशाना
कांग्रेस: भाजपा क्यों इस्तेमाल कर रही है इतने वाहन
अनादि ब्रह्म की ओर से मुख्य चुनाव आयुक्त से मिलने गए वीएस संपत ने कहा कि भाजपा 81 एलईडी वाहनों का इस्तेमाल कर रही है। बिना अधिसूचना वाले क्षेत्रों में इनके इस्तेमाल पर रोक लगाया जाए। साथ ही अमिताभ चौधरी को 16 नवंबर को होने वाले इंटरनेशनल क्रिकेट मैच से भी अलग किया जाए,नहीं तो वे पास बांटकर भाजपा के पक्ष में मतदाताओं को प्रभावित कर सकते हैं। प्रतिनिधिमंडल में राजेश ठाकुर और लाल किशोर नाथ शाहदेव भी मौजूद थे।

झामुमो: कलराज मिश्र पर हो कार्रवाई
सुप्रीयो भट्टाचार्य के नेतृत्व में गए प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से केंद्रीय लघु उद्योग मंत्री कलराज मिश्र पर आचार संहिता उल्लंघन के मामले में कार्रवाई का आरोप लगाया। कलराज ने कहा कि जमशेदपुर के सरकारी कार्यक्रम में कथित रूप से भाजपा को वोट देने की अपील की थी। झामुमो की ओर से मतदाता पहचान-पत्र के रूप में वैकल्पिक परिचय पत्रों को भी मान्यता देनी की मांग की गई।

झाविमो: सभी दलों के मीडिया कवरेज का दें निर्देश
झाविमो के प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से मीडिया हाऊसों को चुनाव कवरेज में समानुपातिक दृष्टिकोण अपनाने के लिए निर्देश देने की मांग की गई।

राजद : भवनाथपुर और मनिका के निर्वाचन अधिकारी ने किया पक्षपात
राजद के मनोज पांडेय के नेतृत्व में गए प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से भवनाथपुर और मनिका के निर्वाची अधिकारियों पर भाजपा के पक्ष में काम करने काआरोप लगाया। इन दोनों अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग की गई।

सीपीआई: निजी भवनों पर झंडा, बैनर लगाने की मांग
भाकपा के केडी सिंह ने निजी भवनों के मालिकों की अनुमति से झंडा,बैनर या दूसरी प्रचार सामग्री लगाने देने की मांग की गई। वहीं चुनाव के दिन निजी कारखानों के मालिकों को भी वोट देने के लिए मजदूरों को अवकाश देने का आग्रह किया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सुरक्षा बलों से डरा झामुमो, भाजपा का उमड़ा प्यार