DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाकुड़ से जुड़े बर्दवान ब्लास्ट के तार

वर्धमान ब्लास्ट के तार पाकुड़ से जुड़ गए हैं। बुधवार को एनआइए और आईबी की टीम ने पाकुड़ के संग्रामपुर में दो संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया। उनसे पूछताछ की जा रही है। उसमें से एक मस्जिद का इमाम है और दूसरा निजी प्रैक्टिस करता है। उनके नाम जहांगीर शेख और सलाउद्दीन हैं।
एनआइए की टीम करीब 15 संदिग्धों की सूची लेकर मंगलवार को पाकुड़ पहुंची। टीम ने एक मोबाइल दुकानदार सहित चार लोगों को हिरासत में लिया था। दो को पूछताछ के बाद छोड़ दिया। दो से पूछताछ जारी है। मंगलवार को टीम तिलभीटा स्टेशन, रानीपुर, संग्रामपुर के विभिन्न टोलों और मोहल्लों में घूमती रही। उसने ग्रामीणों से पूछताछ भी की। बुधवार सुबह एनआइए की टीम संग्रामपुर पंचायत भवन में पहुंची और रानीपुर मस्जिद के इमाम जहांगीर शेख और सलाउद्दीन शेख को पूछताछ के लिए बुलाया। दिन भर पूछताछ करने के बाद गांव के मोबाइल मैकेनिक मंजारूल शेख के पास टीम पहुंची। उससे नोकिया 5233 मॉडल के मोबाइल के बारे में जानकारी ली।

सूत्रों के मुताबिक टीम ने मंजारूल से जहांगीर शेख के बम बनानेवाले ठिकाने के बारे में भी पूछा। बाद में उसे छोड़ दिया गया। जहांगीर और गांव के सलाउद्दीन से देर शाम तक पूछताछ चलती रही। टीम ने दोनों के घर पर भी जाकर पड़ताल की है। जहांगीर शेख ने हाल ही में पश्चिम बंगाल के भगलदिघी से मौलवी की परीक्षा पास की है। सलाउद्दीन शेख वर्षो पूर्व पश्चिम बंगाल के अमतल्ला में पढ़ाई किया करता था। सलाउद्दीन इन दिनों गांव में झाेला छाप डॉक्टर के रूप में भी काम कर रहा है।

इधर पुलिस सूत्रों का कहना है कि मामला केन्द्रीय जांच एजेंसियों से जुड़ा हुआ है। एजेंसी के लोग अपने स्तर से पूछताछ और अनुसंधान कर रहे हैं। स्थानीय पुलिस उन्हें सिर्फ सहयोग दे रही है। इस विषय में कुछ भी बताना संभव नहीं है। देर शाम एनआइए की टीम ने हिरासत में लिए गए दोनों लोगों को लेकर पाकुड़ के  एएसपी कौशल किशोर के आवास पर पहुंची। एनआइए का सहयोग सुरक्षा एजेंसी के अधिकारी भी कर रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाकुड़ से जुड़े बर्दवान ब्लास्ट के तार