DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बर्दवान ब्लास्ट: एनआईए की टीमें सिपाही से पूछताछ कर रही हैं

बर्दवान में हुए ब्लास्ट के सिलसिले में गिरफ्तार जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश के आतंकी अमजद शेख को बस्ती में रुकवाने में मुख्य भूमिका एसएसबी (सशस्त्र सीमा बल) के सिपाही इकबाल के भाई ने अदा की थी। फिलहाल, एनआईए की टीमें सिपाही से पूछताछ कर रही हैं। उसके भाई को भी हिरासत में लिया गया है।

एनआईए के उच्चपदस्थ अधिकारियों ने बताया कि बर्दवान ब्लास्ट के लिए विस्फोटक आदि मुहैया कराने और सीरियल बम ब्लास्ट की साजिश रचने के मामले में गिरफ्तार जेएमबी के आतंकी अमजद शेख ने पूछताछ में कई खुलासे किए हैं। उसने बताया है कि वह कोलकाता से भागने के बाद पहले दक्षिण भारत के कुछ राज्यों में घूमता रहा। फिर दिल्ली व पश्चिमी उत्तर प्रदेश होते हुए बस्ती में छिप गया। बस्ती में एसएसबी में तैनात सिपाही इकबाल का भाई उसका परिचित था। इकबाल पश्चिमी बंगाल के मुर्शिदाबाद का रहने वाला है।

इकबाल के भाई को अमजद शेख के आतंकी होने और उसकी फरारी की जानकारी थी। इकबाल के भाई ने ही उसे बस्ती भेजा और वहां रुकने का इंतजाम करवाया। एनआईए की प्रारंभिक छानबीन में सामने आया है कि इकबाल के भाई ने उसे कई जानकारी नहीं दी थी। इकबाल को यह नहीं मालूम था कि अमजद शेख को एनआईए या फिर देश की खुफिया एजेंसियां तलाश रही हैं।

एनआईए के अधिकारियों ने बताया कि इकबाल से कोलकाता की टीम पूछताछ कर रही है। साथ ही इकबाल के भाई को भी हिरासत में लिया गया है। दोनों से पूछताछ की जा रही है। अभी तक इकबाल के खिलाफ कोई मुकदमा दर्ज नहीं किया गया है। दूसरी ओर, एसएसबी ने भी अपने स्तर से इकबाल के बारे में पड़ताल शुरू की है। जिस बटालियन में वह तैनात था, वहां से जानकारी जुटाई जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बर्दवान ब्लास्ट: एनआईए की टीमें सिपाही से पूछताछ कर रही हैं