DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गुरुवार से मिलने लगेगा गुड़गांव को पानी

पानी सप्लाई पाइप लाइन की मरम्मत के चलते पूर्व योजना के अनुसार हुडा विभाग ने सुबह आठ बजे से ही बसई वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट से पानी की सप्लाई बंद कर दी। जिसके चलते लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। विभाग ने तीन में से जोन नंबर एक और दो को बंद किया है। जोन तीन से पानी की सप्लाई जारी रही। जिसके कारण सेक्टर 45 से 57 तक और सोहना रोड स्थित कॉलोनियों में पानी की सप्लाई जा रही। तेजी से पाइप लाइन की मरम्मत में जुटे हुडा कर्मचारियों ने दावा किया कि कार्य बुधवार रात तक पूरा कर लिया जाएगा और गुरुवार सुबह लोगों को सप्लाई देने का पूरा प्रयास होगा।

हुडा द्वारा पानी सप्लाई न किए जाने की सूचना दो दिन पहले ही दिए जाने के कारण अधिकतर सभी लोगों ने पहले से ही अपने घर में पानी की स्टोरेज कर ली थी। बुधवार शाम तक अधिकतर क्षेत्रों में पानी की ज्यादा किल्लत नहीं थी, लेकिन रात होते-होते लोगों को पानी की किल्लत महसूस होने लगी। स्टोरेज किया पानी धीरे-धीरे खत्म होता जा रहा है। गुरुवार सुबह तक अगर हुडा विभाग ने पानी की सप्लाई शुरू नहीं की तो किल्लत का बड़ा असर गुरुवार को ही देखने को मिलेगा।

समझ आया पानी का मूल्य
पानी बचाने के लिए कई एनजीओ और सरकार जागरूकता अभियान चलाते रहते हैं, लेकिन लोग फिर भी पानी को व्यर्थ बहाते रहते हैं। अक्सर दिखाई देने वाले कुछ नजारे आज गायब थे। घरों के बाहर गाड़ी को धोने वाले लोग बुधवार को बहुत कम दिखे। कई बाइक और गाड़ियों के सर्विस स्टेशनों पर भी पानी सप्लाई न आने से वाहनों की धुलाई नहीं हो सकी। घरों में दैनिक कार्यो के लिए भी लोगों ने बहुत कम पानी का इस्तेमाल किया। कई पार्को में भी पानी नहीं छोड़ा जा सका।

सेक्टर 45 से 57 में हुई सप्लाई
विभाग ने जोन तीन की सप्लाई को जारी रखा। यह जोन चंदू बुढेरा वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट से जुड़ा है। इससे सेक्टर 45 से लेकर 57 तक को सप्लाई दी जाती है। सोहना रोड स्थित कॉलोनियों में भी इसी से सप्लाई होती है। इन जोन में पानी की कनैक्शन काफी कम होने के कारण इस जोन से मात्र छह एमजीडी पानी ही सप्लाई हुआ। गुड़गांव में प्रति दिन 65 एमजीडी से ज्यादा पानी की सप्लाई होती है। जोन एक और दो के बंद रहने के कारण करीबन 60 एमजीडी पानी सप्लाई नहीं हो सका। पानी सप्लाई बाधित होने के चलते हुआ के एक से लेकर 44 सेक्टर तक, पुराने गुड़गांव की कई कॉलोनियों में पानी सप्लाई नहीं हुआ। जनस्वास्थ्य विभाग के द्वारा गुड़गांव की मदरपुरी, भीम नगर और कुछ अन्य कॉलोनियों में टय़ूबवैलों के जरिए होने वाली सप्लाई भी जारी रही। इससे करीबन चार एमजीडी पानी सप्लाई किया गया।

टैंकरों से हुई सप्लाई
पानी सप्लाई बंद रहने की सूचना पहले से मिलने के बावजूद कुछ क्षेत्रों में लोगों ने पानी की स्टोरेज पर ध्यान नहीं दिया। जिसके कारण उन्हें मजबूरन टैंकर से पानी मंगाना पड़ा। बुधवार को टैंकरों से पानी की बहुत ज्यादा सप्लाई नहीं हुई, लेकिन जो भी टैंकर गए उनके रेट सामान्य से काफी ज्यादा थे। पांच हजार लीटर पानी के टैंकर के लिए लोगों को एक हजार रुपये तक चुकाने पड़े। सामान्य दिनों में यह 600 से 700 रुपये में मिल जाता है।

तीन जगह हुई मरम्मत
पेयजल सप्लाई लाइन की मरम्मत का कार्य तीन जगहों पर किया गया। एमडीआई चौक, सेक्टर 17 सी और सेक्टर नौ में बसई मोड के पास क्षतिग्रस्त पाइप लाइन को बदलने का काम सुबह नौ बजे से ही शुरू कर दिया गया था।

वजर्न
हमारा प्रयास है कि बुधवार देर रात तक मरम्मत का कार्य पूरा कर शहर में गुरुवार सुबह की पानी सप्लाई दी जाए। मरम्मत कार्य की गति अच्छी है। यह निश्चित है कि 30 घंटे की समय सीमा से पहले ही लोगों को पानी मिल जाएगा।
वीके श्योकंद, एक्सईएन, हुडा विभाग डिविजन नंबर तीन
---जतिन जैनगुरुवार से मिलने लगेगा गुड़गांव को पानी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गुरुवार से मिलने लगेगा गुड़गांव को पानी