DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत की शान बच्चे

भारत की शान बच्चे

दुनिया में तुम्हारे जैसे छोटे-छोटे कई बच्चे अपने हुनर, प्रतिभा और मेहनत के बल पर ऐसे काम कर जाते हैं, जो दूसरों के लिए मिसाल बन जाती है। कल बाल दिवस है, इसलिए इस मौके पर हम तुम्हें ऐसे भारतीय बच्चों के बारे में बता रहे हैं, जिन्होंने पूरी दुनिया में हमारे देश का नाम रोशन कर दिया है। इनसे मिला रही हैं रजनी अरोड़ा

गगन सतीश
रोलर-स्केट्स पहन कार के नीचे रहे
गगन ने 39 कारों के नीचे से 10 मीटर की दूरी तय की रोलर-स्केट्स पहन कर। छह साल के गगन सतीश ने पैरों में रोलर-स्केट्स पहनकर एक बार में 39 कारों के नीचे से गुजरने का रिकॉर्ड बनाया। पांच-पांच सेंटीमीटर की दूरी पर खड़ी कारों को पार करने के लिए गगन ने सिर्फ 29 सेकेंड का समय लिया। गगन जब भी यह अजूबा कारनामा कर दिखाते हैं तो उसे देखने के लिए हजारों की संख्या में लोग उमड़ आते हैं।

तमन्ना बालाचंद्रन
दुनिया की सबसे छोटी प्रशिक्षित स्कूबा डाइवर
15 अप्रैल 2004 में जन्मी तमन्ना बालाचंद्रन ने 16 अप्रैल 2014 को अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के हैवलॉक द्वीप पर यह खिताब जीता। वह मुंबई की रहने वाली चौथी क्लास की 10 वर्षीय छात्रा हैं और स्विमिंग प्रशिक्षक प्रफुल्ल चुग से स्विमिंग सीखती हैं। उन्हीं की देखरेख में हैवलॉक द्वीप पर समुद्र के अन्वेषक के रूप में एक्सप्लोर स्कूबा डाइविंग का कड़ा प्रशिक्षण लिया और दुनिया की सबसे छोटी प्रशिक्षित स्कूबा डाइवर का रिकॉर्ड बनाया। तमन्ना ने दसवीं क्लास में पढ़ रही अपनी बड़ी बहन राशि (14 वर्ष) के साथ मिलकर दुनिया की सबसे छोटी युवा बहनों की स्कूबा डाइवर जोड़ी का रिकॉर्ड भी बनाया।

रुहान अल्वा
गो-कारटिंग रेसिंग में रिकॉर्ड
बेंगलुरू के 8 साल के रुहान अल्वा ने बचपन में ही रेसिंग कार चलाने के अपने सपने को पूरा कर लिया है। अमेरिका की प्यूजन मोटरस्पोर्ट्स टीम की तरफ से वह 4 गो-कारटिंग रेस में शामिल हो चुके हैं और कामयाबी हासिल की है। उन्होंने 14 किलोमीटर की गो-कारटिंग रेस 57 सेकेंड में पूरी कर रिकॉर्ड बनाया है।

वी महेश
तैराकी मैराथन में सबसे तेज
आंध्र प्रदेश में रहने वाले 6 साल के मास्टर वी महेश ने तैराकी मैराथन में विश्व रिकॉर्ड बनाया। उन्होंने 4 घंटे में 10 किलोमीटर की दूरी तय की।

बेबी गुर्रम निधि
शास्त्रीय-लोकनृत्य की विभिन्न रूपों में परफॉर्मेस
17 अक्तूबर 2004 को आंध्र प्रदेश में जन्मी बेबी गुर्रम निधि ने डांस करके रिकॉर्ड बनाया। यह डांस 15 अक्तूबर 2013 को चिक्काडपल्ली के त्यागराया गण सभा में वंशी इंटरनेशनल और अकेल्ला राघवेन्द्रा फाउंडेशन ने आयोजित किया था। इस परफार्मेस में डॉं. कप्पू श्री कंठ गौड द्वारा बनाए गए 21 गीतों पर बेबी ने स्टेज पर ही चार तरह के डांस-कॉस्ट्यूम बदले और एक घंटे 30 मिनट और 3 सेकेंड में पूरा किया।

महमूद अकरम
दुनिया का सबसे युवा बहुभाषी टाइपिस्ट
12 फरवरी 2006 को तमिलनाडु में जन्मे महमूद अकरम ने यह खिताब जीता। वह कंप्यूटर के की-बोर्ड से 50 भाषाओं में टाइप कर सकते हैं। 24 अगस्त 2014 को पंजाब में आयोजित समारोह के अवसर पर उन्होंने यह कर दिखाया।

सृष्टि शर्मा
सबसे नीची लिंबो स्केटिंग रिकॉर्ड
महाराष्ट्र में 4 अगस्त 2004 को जन्मी सृष्टि धर्मेद्र शर्मा ने यह रिकॉर्ड 23 अगस्त को बनाया। इस प्रतियोगिता का आयोजन ‘सेव गर्ल चाइल्ड’ के प्रचार के लिए किया था। उन्होंने 3 किलोमीटर लंबी लिंबो स्केटिंग की दूरी 180 डिग्री तक अपने पैर स्ट्रैच कर 20 मिनट 17 सेकेंड में पूरी की।

टीना पंवार
ताश का सबसे बड़ा संग्रह
राजस्थान की रहने वाली 14 साल की टीना पंवार को ताश इकट्ठा करने का बचपन से ही शौक रहा है। उसने 20 मार्च 2014 तक 700 तरह के ताश एकत्रित कर लिए थे, जिन्हें सबसे अधिक संख्या में इकट्ठा करने का विश्व रिकॉर्ड भी बन गया है। टीना अभी भी ताश एकत्रित कर रही हैं।

मयंक साहू
एक मिनट में संगीत के कई स्वरों की पहचान
25 अप्रैल 1997 में जन्मे महाराष्ट्र के मयंक साहू ने यह पहचान किसी म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट को देखे बिना ही की। उन्होंने इलेकिट्रक सिंथेसाइजर के जरिये एक मिनट में 82 संगीत स्वरों की पहचान की। यही नहीं, जब ये स्वर आगे-पीछे कर दुबारा सुनाए गए तो भी उन्होंने इनकी ठीक से पहचान कर रिकॉर्ड कायम किया।

ये भी हैं रिकॉर्डधारी
धीरज- विभिन्न देशों के झंडों को 1 मिनट में पहचानकर रिकॉर्ड बनाया। तमिलनाडु में 28 जून 2009 को जन्मे धीरज के एल ने 27 सितंबर 2014 को यह रिकॉर्ड बनाया। उन्होंने एक मिनट में 110 देशों के राष्ट्रीय झंडों की पहचान की।

मास्टर करूर- सबसे अधिक तेजी से कार के मॉडल याद करने का रिकॉर्ड बनाया। 8 जुलाई 2010 को तमिलनाडु में जन्मे मास्टर करूर ने यह रिकॉर्ड कायम किया। 11 मई 2014 को कम से कम समय में कार के मॉडल याद करने की हुई प्रतियोगिता में उसने 3 मिनट और 9 सेकेंड में 102 कारों के मॉडलों के नाम गिनाए।

हरिस इम्तियाज खान- सबसे कम उम्र के लाइव पोट्रेट कलाकार हैं खान। महाराष्ट्र में 3 मार्च 1998 में जन्मे हरिस ने युवा लाइव पोट्रेट कलाकार का खिताब हासिल किया है। वह 30 मिनट में लाइव चित्र बना सकते हैं। उन्होंने 10 साल की उम्र से पेंटिंग बनानी शुरू की थी।

शुभम बैनर्जी
किफायती ब्रेल प्रिंटर का आविष्कारक
कैलिफोर्निया, अमेरिका में रहने वाले शुभम बनर्जी भारतीय हैं और सातवीं क्लास में पढ़ रहे हैं। उन्होंने ब्रेल प्रिंटर ‘ब्रेगो‘ का आविष्कार किया है, जिससे लाखों नेत्रहीन लोगों को फायदा होगा। ब्रेगो बनाने में शुभम को करीब एक महीने का समय लगा। चूंकि ब्रेगो ब्रेन प्रिंटर बच्चों के खिलौने ‘लेगो‘ से बनाया गया। इसलिए शुभम ने इसका नाम भी ब्रेल और लेगो को मिलाकर ‘ब्रेगो‘ रखा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारत की शान बच्चे