DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

क्लीनस्वीप के लिये श्रीलंका पर निर्ममता जारी रखेगा भारत

क्लीनस्वीप के लिये श्रीलंका पर निर्ममता जारी रखेगा भारत

अब तक श्रीलंका से किसी भी तरह की चुनौती नहीं पाने वाला भारत पांच मैचों की सीरीज में क्लीन स्वीप करने के उद्देश्य से गुरुवार को होने वाले चौथे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में भी अपने इस पड़ोसी देश पर किसी तरह की रहम नहीं दिखाएगा।

श्रीलंका ने अपने आक्रमण में कुछ पैनापन लाने के उद्देश्य से स्पिनर अजंता मेंडिस को टीम में शामिल किया है। यही नहीं बल्लेबाजों के लचर प्रदर्शन को देखते हुए लाहिरू तिरिमाने और दिनेश चंदीमल को भी बाकी बचे दो मैचों के लिये टीम में लिया गया है।

इन खिलाड़ियों को शामिल करने में श्रीलंका ने देर कर दी क्योंकि भारत पहले ही 3-0 की अजेय बढ़त लेकर सीरीज अपने नाम कर चुका है। श्रीलंका हालांकि बाकी बचे दो मैचों में चुनौती पेश करके प्रतिष्ठा बचाने की खातिर खेलेगा।

भारत ने नियमित कप्तान महेंद्र सिंह धौनी की अनुपस्थिति में कुछ नये खिलाड़ियों को आजमाया है। उसने शिखर धवन और रविंद्र जडेजा की जगह रोहित शर्मा और रोबिन उथप्पा को शामिल करके फिर से टीम को नया रूप दिया है।

धवन के साथ विश्व कप में पारी का आगाज रोहित और अंजिक्य रहाणे में से कौन करेगा यह चर्चा का विषय है। रोहित ने चोट से उबरने के बाद टीम में वापसी की हैं। उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ अभ्यास मैच में भारत ए की तरफ से 142 रन बनाये थे। वह अच्छा प्रदर्शन करके चयनकर्ताओं को प्रभावित करने की कोशिश करेंगे।

धवन ने पिछले मैचों में जीत में अहम भूमिका निभायी। उन्होंने सीरीज में 94.33 की औसत से 283 रन बनाये और चयनकर्ताओं ने अब उन्हें विश्राम देने का फैसला किया।

रोहित के अलावा आक्रामक बल्लेबाज और पार्टटाइम विकेटकीपर उथप्पा की टीम में वापसी हुई है और यह देखना दिलचस्प होगा कि भारत अपने बल्लेबाजी क्रम में किस तरह का बदलाव करता है। श्रीलंकाई कप्तान एंजेलो मैथ्यूज ने अपने बल्लेबाजों को रन नहीं बना पाने के लिये आड़े हाथों लिया। श्रीलंकाई टीम ने कुमार संगकारा, उपुल थरांगा, धम्मिका प्रसाद और सूरज रणदीव को बाहर करके विश्व कप से पहले कुछ अन्य खिलाड़ियों का मौका देने की रणनीति अपनायी है।

मेंडिस की वापसी से आक्रमण मजबूत हुआ है। अभी तक भारतीय बल्लेबाजों ने श्रीलंकाई आक्रमण की धज्जियां उड़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है और देखना होगा कि मेंडिस कितना अंतर पैदा कर पाते हैं। मेंडिस के अलावा तिरिमाने और चंदीमल भी टीम में शामिल किये गये हैं जिन्होंने वेस्टइंडीज ए के खिलाफ हाल में अच्छा प्रदर्शन किया था। तिरिमाने ने चार पारियों में तीन अर्धशतक जबकि चंदीमल ने दो अर्धाश्तक जमाये थे। श्रीलंका को इन दोनों से बड़ी पारियों की उम्मीद रहेगी।

जयवर्धने का अच्छा फॉर्म दिखाना श्रीलंका के लिये राहत की बात है। इस अनुभवी बल्लेबाज ने पिछले मैच में 124 गेंदों पर 118 रन बनाये लेकिन उन्हें दूसरे छोर से मदद नहीं मिली जिससे श्रीलंका की टीम 242 रन पर आउट हो गयी थी।

भारतीय आक्रमण की बात करें तो मोहम्मद शमी और भुवनेश्वर कुमार की अनुपस्थिति में उमेश यादव अपेक्षाओं पर खरे उतरे हैं। उन्होंने अब तक तीन मैचों में आठ विकेट लिये हैं। बायें हाथ के स्पिनर अक्षर पटेल ने भी काफी उम्मीदें जगायी हैं। इसके अलावा टीम में कर्ण शर्मा, विनयकुमार और केदार जाधव भी शामिल हैं।

बल्लेबाजी की तरह गेंदबाजी आक्रमण में भी बदलाव की संभावना है। कर्ण और विनयकुमार को मौका दिया जा सकता है। लेग स्पिनर कर्ण शर्मा ने घरेलू सत्र में लगातार विकेट लिये हैं। उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ अभ्यास मैच में भी 47 रन देकर चार विकेट लिये थे। ईडन के विकेट को देखते हुए भारत तीन स्पिनरों के साथ उतर सकता है।

अंबाती रायुडु और केदार जाधव भी टीम में हैं और ऐसे में भारत के पास विकेटकीपिंग के कई विकल्प हैं। जाधव अच्छे फॉर्म में हैं। उन्होंने जुलाई अगस्त में ऑस्ट्रेलियाई दौरे में भारत ए की तरफ से तीन अर्धशतक लगाये थे।

टीमें इस प्रकार हैं
भारत : विराट कोहली (कप्तान), अंजिक्य रहाणे, रोहित शर्मा, अंबाती रायुडु, सुरेश रैना, रोबिन उथप्पा, रविचंद्रन अश्विन, उमेश यादव, धवल कुलकर्णी, विनयकुमार, स्टुअर्ट बिन्नी, कर्ण शर्मा, अक्षर पटेल और केदार जाधव में से।

श्रीलंका : एंजेलो मैथ्यूज (कप्तान), कुशल परेरा, तिलकरत्ने दिलशान, लाहिरू तिरिमाने, माहेला जयवर्धने, दिनेश चंदीमल, अशान प्रियांजन, निरोशन डिकवेला, तिसारा परेरा, नुवान कुलशेखरा, लाहिरू गमागे, चतुरंगा डिसिल्वा, सीकुगे प्रसन्ना, अजंता मेंडिस और शमिंडा इरांगा में से।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:क्लीनस्वीप के लिये श्रीलंका पर निर्ममता जारी रखेगा भारत