DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फिर देखा गया तेंदूआ, दहशत बढ़ी

नवाबगंज क्षेत्र में तेंदुए की दहशत से लोग उबर भी न पाए थे कि शहर कोतवाली के गढ़ी चिलौली में शेर की दस्तक से दहशत का माहौल पनप उठा। मंगलवार शाम गांव के लगभग एक दजर्न लोगों ने भयावह शेर को नीलगाय का शिकार करते अपनी आंखों से देखा। शेर देखते ही भगदड़ मच गई। आसपास कई गांव के लोगों ने मशाल जलाकर भगाने की कोशिश की। पर भागने की जगह छिपकर पास के नाले में बैठ गया। तेज गजर्ना से दहशत में आए ग्रामीणों ने कोतवाली पुलिस को घटना की जानकारी दी। जिस पर पुलिस टीम गांव के लिए रवाना हो गई। वन विभाग के लोगों ने जानकारी का आभाव बता पल्ला झाड़ लिया।


शहर कोतवाली से लगभग 12 किलोमीटर दूर कटरी एरिया गढ़ी चिलौली में मंगलवार शाम 7 बजे करीब गांव के लोगों में उस समय हड़कम्प मच गया जब एक शेर नीलगाय का शिकार कर रहा था। गांव के लोगों की चहलकदमी भांप शेर भागकर पास के नाले में छिप गया। दहशत में गांव के लोगों ने मशाल जला बच्चाों को घरों में छिपा दिया। बनकटा निवासी ब्रजभूषण पाण्डेय को जब घटना की जानकारी मिली तो उन्होंने शहर कोतवाल धर्मेन्द्र रघुवंशी को सूचना दी। कोतवाल ने पुलिस टीम गांव के लिए रवाना कर दी। वन विभाग के डीएफओ विनय कृष्ण मिश्र से घटना के बाबत बात की गई तो उनका कहना था कि विभागीय कार्य से लखनऊ आया हूं। घटना की जानकारी नहीं मिली है। टीम भेजकर जांच करा लेता हूं।

क्या बोले जिम्मेदार
फारेस्टर राजेश मिश्र का कहना था कि गांव के लोगो से जब बात की गई तो उन्होंने बताया कि एक जंगली जानवर नील गाय का शिकार कर रहा था। पंजों को देखकर लोग शेर का अंदेशा जता रहे है। जांच के लिए टीम रवाना कर दी गई है। ग्रामीणों की दहशत मिटाने के लिए टीम काम्बिंग कर जंगली जानवर को काबू में कर लेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फिर देखा गया तेंदूआ, दहशत बढ़ी