DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इंटरव्यू में असफल आगे क्या करें?

नौकरी प्राप्त करने के लिए इंटरव्यू में सफलता प्राप्ति हमेशा पहला कदम होती है। हर तरह से अच्छे रहे इंटरव्यू के बावजूद यदि नौकरी हासिल करने में असफलता मिलती है तो कुछ मुद्दों पर आत्ममंथन करना जरूरी हो जाता है। यदि इंटरव्यू में असफलता मिले तो अपनी सोच और कार्यप्रणाली में क्या और कैसे सुधार करें, जानिए आज

इंटरव्यू में सफलता या असफलता के कई पहलू होते हैं। हम में से कई लोग किसी स्थान विशेष में इंटरव्यू देकर अक्सर वहां नौकरी मिलने की बड़ी उम्मीदें पाल लेते हैं, लेकिन जब वहां से नकारात्मक जवाब आता है तो ठेस लगती है। नौकरी की तलाश में निकले हैं और इंटरव्यू दे रहे हैं तो इस सत्य को हमेशा ध्यान में रख कर चलें कि कभी भी असफलता का सामना करना पड़ सकता है। आपका इंटरव्यू चाहे जितना अच्छा रहा हो, लेकिन यह आशंका हमेशा सिर उठाए रहती है कि आपसे बेहतर कोई और प्रत्याशी बाजी मार सकता है और अक्सर ऐसा हो भी जाता है।

दरअसल भारत में ऐसा भी होता है कि प्रत्याशी को इंटरव्यू के नतीजे के लिए लंबा इंतजार करना पड़ता है। यह लंबी चुप्पी प्रत्याशी के लिए खासी तकलीफदेह होती है। अच्छे इंटरव्यू और लंबे इंतजार के बाद यदि जवाब नकारात्मक रहता है तो उस बारे में अक्सर यह अंदाजा लगाना भी मुश्किल हो जाता है कि आखिर गलती कहां रह गई थी?

अच्छे इंटरव्यू के बाद की असफलता को समझ कर भविष्य की तैयारी करने के कई उपाय होते हैं। इससे जुड़े तथ्यों को समझना उतना ही जरूरी होता है, जितना खुद इंटरव्यू की तैयारी करना। जी हां, अपने सीवी पर आप शैक्षिक और कार्य अनुभव से जुड़ी अपनी काबिलियत के बारे में तो बताते हैं, लेकिन इससे आपकी संवेदनीय क्षमता का पता नहीं चलता, जो किसी असफलता की सूरत में अपना सिर उठाती है। इस दौरान कई व्यक्ति तो गहरे अवसाद तक में जा पहुंचते हैं। सबसे पहले यह जान लेना जरूरी है कि अच्छे इंटरव्यू के बाद मिली असफलता की सूरत में आपको अपना धैर्य बनाए रखने की जरूरत होती है यानी नकारात्मक जवाब सुनने के बाद कारण जानने के लिए बार-बार जोर देना ठीक नहीं होता। तो इससे पहले कि इंटरव्यू की कोई असफलता आपके आत्मविश्वास को बुरी तरह से हिला कर रख दे, जरूरी है कि भावी साक्षात्कारों के लिए आप कुछ ऐसी तैयारी भी कर लें, जो आगे आपके काम आए।

आप अकेले नहीं
यह समझना होगा कि असफलता का मुंह देखने वाले आप अकेले व्यक्ति नहीं हैं, इसलिए ऐसे किसी अनुभव के बाद उस बारे में ज्यादा देर तक न सोचते रहें। इंटरव्यू में आपने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास किया था और उसके बावजूद आपको असफलता मिली तो बाद में आप कुछ नहीं कर सकते। दरअसल किसी भी संस्थान में रिक्त स्थान के लिए उचित प्रत्याशी को काम पर रखने से जुड़े कारण और फैसले अक्सर इंटरव्यू देने वाले प्रत्याशियों को स्पष्ट नहीं होते। आपके अच्छे प्रदर्शन के बावजूद कुछ ऐसे कारण हो सकते हैं, जिन पर सोचना वहां की मैनेजमेंट के लिए जरूरी होता है। उदाहरण के लिए, संस्थान के व्यवसाय की गहरी जानकारी रखने वाला कोई ऐसा व्यक्ति, जो पहले से ही उस क्षेत्र में हो। ऐसी कई परिस्थितियों पर आपका काबू नहीं होता।

फीडबैक
यह बिल्कुल न सोचें कि आपके प्रयासों में कमी रह जाने के कारण आपको नौकरी नहीं मिली। इंटरव्यू का नतीजा आने के कुछ समय बाद आप रिक्रूटर से बहुत विनम्रता के साथ यह जानने के लिए सविस्तार फीडबैक मांग सकते हैं कि आपके किस पक्ष में कमी रही या भविष्य में आप किस तरह अपने प्रदर्शन में सुधार ला सकते हैं। यह भी जान लें कि कई बार इंटरव्यू का फीडबैक बिल्कुल ही सपाट या व्यर्थ होता है, इसलिए जहां तक संभव हो, फीडबैक के सकारात्मक व काम में आने वाले पक्ष की ही मांग करें। इस दिशा में आप किसी एचआर प्रोफेशनल की भी सलाह ले सकते हैं, जो भावी साक्षात्कारों के अभ्यास के लिए मॉक इंटरव्यू व सकारात्मक आलोचना के जरिए आपकी मदद कर सकता है।

खुद से सवाल
किसी जॉब इंटरव्यू की असफलता के बाद खुद से सवाल पूछें कि क्या सचमुच आपको इसी जॉब की जरूरत थी? यदि आप कहीं कार्यरत हैं तो क्या उस स्थान को छोड़ना आपके पक्ष में रहेगा? कई बार इंटरव्यूअर इस प्रश्न से जुड़े सच को साक्षात्कार देने वाले के व्यवहार से ही भांप लेते हैं। लिहाजा खुद से कुछ ऐसे सवाल पूछना अच्छा रहेगा कि आगामी दस वर्षों में आप खुद को अपने मौजूदा कार्यस्थल पर ही देखना चाहेंगे या जहां आप इंटरव्यू देने आए हैं, वहां काम करना चाहेंगे? बेहतर होगा कि इंटरव्यू से पूर्व ही आप अपने मन में इन सवालों के पुख्ता जवाब सोच कर रखें। आप इंटरव्यू में असफल रहे तो हो सकता है, यह सच आपके पक्ष में ही जाए। बेशक इस लीक पर सोचना कठिन होता है, लेकिन आगे बढ़ना जरूरी है।

जान लें कि..
इस सच को आप कभी पूरी तरह से नहीं जान पाएंगे कि इंटरव्यू में आप क्यों असफल रहे। अक्सर नौकरी प्राप्त करने में असफल रहे प्रत्याशी संस्थान को पसंद तो आते हैं, लेकिन नौकरी किसी कारणवश उन्हें नहीं दी जाती। इसलिए इस सच को स्वीकार लेना ही ठीक होगा कि जिसे नौकरी मिली है, संभवत: उसके पास जो काबिलियत (या पहुंच) थी, वह आपके पास नहीं थी। शायद उसने इंटरव्यू के दौरान सवालों के जवाब ज्यादा कुशलता से दिए होंगे। जो भी हो, नौकरी की आपकी तलाश जारी रहनी चाहिए और अपनी कमियों को दूर करने के प्रयास भी। यह असफलता सिर्फ एक ही इंटरव्यू से जुड़ी थी, सब कार्यों से नहीं।

सकारात्मकता जरूरी
जॉब सर्च करते हुए यदि कुछ अरसा हो गया है तो लगातार इंटरव्यू देने और असफलता का मुंह देखने पर अक्सर आत्मविश्वास भी डगमगाने लगता है, परंतु अपने हरेक इंटरव्यू में इंटरव्यूअर के सामने बैठने के दौरान खुशमिजाज छवि बनाए रखें। करियर के क्षेत्र में दीर्घकालिक तौर पर यही सकारात्मकता आपके काम आएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इंटरव्यू में असफल आगे क्या करें?