DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

परिवहन विभाग ने शासन को भेजा सभी जिले का प्रस्ताव

स्कूल बस, पर्यटक बस, परिवहन निगम समेत निजी ऑपरेटरों की बसें भी अब सीसीटीवी से लैस होंगी। महिला सुरक्षा के मद्देनजर सरकार ने यह कदम उठाया है। यह कैमरे ‘निर्भया फंड’ के तहत पूरे प्रदेश की बसों में लगाए जाएंगे। पहले सिर्फ लखनऊ, कानपुर, वाराणसी, गोरखपुर, मथुरा व गाजियाबाद जिलों की बसों में कैमरे लगाने का प्रस्ताव था। अब इसमें बदलाव करते हुए परिवहन आयुक्त ने प्रदेश भर की बसों में कैमरा लगाने का प्रस्ताव शासन को भेजा है।

परिवहन आयुक्त के रविंद्र नायक ने कहा कि स्कूल बस से लेकर सवारी गाड़ी में महिलाओं के साथ हो रहे अपराधों को देखते हुए यह कदम उठाया गया है। शासन को भेजे गए प्रस्ताव पर जल्द ही सहमति बनने की उम्मीद है। कैमरे लगाने के साथ ही बसों में व्हीकल ट्रैकिंग सिस्टम बाक्स लगाकर ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम (जीपीएस) के जरिए जिलेवार कंट्रोल रूम बनाने का काम शुरू हो जाएगा।
............
बसों में कैमरे लगाने का परीक्षण सफल रहा
बसों में कैमरे लगाने के पहले परीक्षण के तौर पर रोडवेज की तीन बसों में कैमरा लगाया गया था। यह कैमरा कानपुर, हरदोई व गाजियाबाद डिपो की बसों में लगा था। इसके लिए निगम मुख्यालय पर बने कंट्रोल रूम से निगरानी करने के बाद अधिकारियों ने इस प्रयोग को सफल बताया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:परिवहन विभाग ने शासन को भेजा सभी जिले का प्रस्ताव