DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गूगल ने नासा के साथ किया 60 वर्ष का करार

गूगल ने नासा के साथ किया 60 वर्ष का करार

एक ऐतिहासिक नौसैन्य एयरबेस की जगह को लंबे समय तक किराए पर लेने के लिए गूगल ने नासा के साथ समझौता किया है। गूगल की योजना यहां तीन बड़े हैंगरों का नवीकरण करने और फिर इनका इस्तेमाल उड्डयन, अंतरिक्ष अन्वेषण एवं रोबोटिक्स से जुड़ी परियोजनाओं में करने की है।

इस संपत्ति के 60 साल के किराए के रूप में दिग्गज इंटरनेट कंपनी 1.16 अरब डॉलर का भुगतान करेगी। इस संपत्ति में एक सक्रिय एयरफील्ड, गोल्फ कोर्स और अन्य इमारतें भी शामिल हैं। 1000 एकड़ का यह क्षेत्र सेन फ्रांसिस्को प्रायद्वीप में स्थित पूर्व मोफेट फील्ड नेवल एयर स्टेशन का हिस्सा है।

नासा के बयान के अनुसार, गूगल की योजना हैंगरों के नवीकरण और अन्य सुधार लाने के लिए 20 करोड़ डॉलर से ज्यादा का निवेश करने की है। इनमें एक संग्रहालय या शैक्षणिक प्रतिष्ठान भी शामिल है, जो कि मोफेट और सिलिकॉन वैली के इतिहास का प्रदर्शन करेंगे।

एजेंसी ने कहा कि गूगल की सहायक कंपनी प्लेनेटरी वेंचर्स एलएलसी इन हैंगरों का इस्तेमाल अंतरिक्ष अन्वेषण, उड्डयन, रोवर, रोबोटिक्स और अन्य नयी तकनीकों के क्षेत्र में शोध, विकास, संकलन एवं परीक्षण के लिए करेगी।
 गूगल के संस्थापकों लैरी पेज और सर्गे ब्रिन की उड्डयन एवं अंतरिक्ष में रुचि सर्वविदित है।

कंपनी ने हाल ही में कई ऐसी छोटी कंपनियों का अधिग्रहण किया है, जो उपग्रह तकनीक और रोबोटिक्स पर काम कर रही हैं। लेकिन गूगल के प्रवक्ता ने इस संपत्ति से जुड़ी योजनाओं पर चर्चा से कल इंकार कर दिया। यह संपत्ति कंपनी के मुख्य परिसर माउंटेन व्यू से कुछ ही किलोमीटर की दूरी पर है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गूगल ने नासा के साथ किया 60 वर्ष का करार