DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

2013 में पास तो जेईई मेन नहीं दे सकेंगे

आईआईटी, एनआईटी और शीर्ष इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिले के लिए जेईई मेन की परीक्षा के लिए आवेदन शुरू हो गया है। यदि किसी छात्र ने 2012 में 12वीं की परीक्षा दी लेकिन 2013 में परीक्षा उत्तीर्ण की है तो ऐसे छात्र सीबीएसई बोर्ड की जेईई मेन की परीक्षा में बैठ नहीं पाएंगे। छात्रों को तीन मौके मिलेंगे। आवेदन 18 दिसंबर तक किया जा सकता है।
 
सीबीएसई ने नियमों का साफ करते हुए कहा कि सत्र 2015 में इंजीनियरिंग कोर्स में दाखिले के लिए तीन से अधिक मौके नहीं दिए जाएंगे। नियमों के मुताबिक, जिन्होंने 2013 में 12वीं की परीक्षा दी और उसी वर्ष उत्तीर्ण की और 2014 में परीक्षा देकर इसी वर्ष पास हुए हैं, ऐसे छात्र आवेदन कर सकेंगे। इसके अलावा जो छात्र 2015 में 12वीं की परीक्षा देंगे वे भी आईआईटी जैसे संस्थानों के लिए मेन की परीक्षा दे सकेंगे। लेकिन 2012 में परीक्षा देकर 2013 में पास होने वाले योग्य नहीं होंगे। बहरहाल, आवेदन सिर्फ ऑनलाइन होगा। छात्रों को www.jeemain.nic.in. पर जाकर फॉर्म भरना होगा। दो तरह से परीक्षा दी जा सकती है।

ऑफलाइन परीक्षा का शुल्क ज्यादा
आवेदन के लिए शुल्क का भुगतान ऑनलाइन होगा। डेबिट व क्रेडिट कार्ड से भुगतान होगा। ऑफलाइन परीक्षा के लिए छात्रों के लिए 1000 रुपये और छात्राओं के लिए 500 रुपये शुल्क तय किया गया है। इसके अलावा ऑनलाइन परीक्षा के लिए छात्रों को 500 रुपये और छात्राओं को 250 रुपये शुल्क देना होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:2013 में पास तो जेईई मेन नहीं दे सकेंगे