DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूरे राज्य में शांतिपूर्ण मतदान हो : डीजीपी

झारखंड में पांच चरण में विधानसभा के चुनाव होने हैं। इसकी तैयारी की समीक्षा डीजीपी राजीव कुमार ने की। सोमवार को वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए सभी जिलों के आरक्षी अधीक्षकों से तैयारी की समीक्षा की। डीजीपी ने स्पष्ट निर्देश दिया कि पूरे राज्य में शांतिपूर्ण मतदान होना चाहिए। हर बूथ पर जवाब तैनात रहे। नक्सलियों के खिलाफ अभियान चले।

उन्होंने एसपी स्तर के अधिकारियों से उनकी समस्या की जानकारी ली। डीजीपी ने स्पष्ट निर्देश दिया कि उग्रवादग्रस्त इलाकों में विशेष नजर रखी जाए। झारखंड को साढ़े तीन सौ कंपनी सीआरपीएफ के मिलनेवाले हैं। 110 कंपनी यहां पहुंच चुकी है। 70 कंपनी से अधिक जवान पहले से तैनात हैं। राज्य के बड़े अपराधियों और उग्रवादियों को गिरफ्तार करने का निर्देश दिए हैं।

12 नवंबर को चुनाव आयोग समीक्षा करेगा। बैठक में रेल के एडीजीपी अशोक सिन्हा, मुख्यालय के एडीजीपी बीबी प्रधान, विशेष शाखा के एडीजीपी रेजी डुंगडुंग, विधि-व्वयस्था के एडीजीपी केएस मीना, सीआइडी के एडीजीपी एसएन प्रधान, निगरानी, जैप, प्रोविजन के आइजी अनुराग गुप्ता, मुरारी लाल मीना, आरके मल्लिक, रांची के डीआइजी प्रवीण कुमार और अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

वीडियो कांफ्रेसिंग के मुद्दे
जिले में वर्तमान नक्सली समस्या
अवैध हथियार, गोली और शराब पर विशेष अभियान चलाने का निर्देश
उडम्नदस्ता और स्थिर निगरानी हेतु टीम का गठन
बजट संबंधी समस्या (यात्रा भत्ता, वाहन भत्ता और अन्य भत्तों) पर चर्चा
सभी वर्ग के पुलिसकर्मियों और पदाधिकारियों को विशेष प्रशिक्षण
सीआरपीएफ, डीएपी को संचालित करने के निर्देश

चुनाव आयोग ने अपना आदेश लिया वापस
चुनाव आयोग ने राज्य के मुख्य सचिव और डीजीपी को यह आदेश दिया था कि वे राज्य के एसपी और डीसी से वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए बात नहीं करेंगे और न ही उन्हें कोई निर्देश देंगे। इस आदेश की आलोचना हुई। इसके बाद दोनों अधिकारियों को यह निर्देश दिया गया कि वे चुनाव तैयारी में जुट जाएं और समीक्षा भी करें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पूरे राज्य में शांतिपूर्ण मतदान हो : डीजीपी