DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बगोदर विधायक विनोद सिंह ने किया सरेंडर

समाहरणालय में तोड़फोड़ करने तथा सरकारी काम में बाधा पहुंचाने के एक मामले में बगोदर के माले विधायक विनोद सिंह ने सोमवार को अपने दो कार्यकर्ताओं के साथ अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया। तीनों को जेल भेज दिया गया। राज्य बनाम ईश्वरी राणा एंव अन्य के मामले में सोमवार को विधायक विनोद सिंह, बबन मेहता और लक्ष्मण मंडल ने सीजेएम कोर्ट, कोडरमा में आत्मसमर्पण किया।

साथ ही जमानत की अर्जी भी दाखिल की। संभावना है कि 11 नवंबर को जमानत अर्जी पर सुनवाई होगी। बता दें कि 30 अगस्त 2010 को समाहारणालय में माले कार्यकर्ताओं ने ढीबरा (निम्न कोटि का अभ्रक) के सवाल पर धरना-प्रदर्शन किया था। इस दौरान तोड़फोड़ हुई थी। मामले को लेकर कोडरमा थाना कांड सं 349/2010 में 22 लोगों को नामजद और 240-50 अन्य के खिलाफ केस दर्ज कराया गया था। इस मामले में कई नेता जमानत पर हैं।

इस पूरे मामले पर विनोद सिंह ने कहा कि वे घटना के दौरान मौजूद नहीं थे। मौके पर जिप सदस्य रामधन यादव, जिला सचिव प्रेम प्रकाश पासवान, रविन्द्र बर्णवाल, महावीर शर्मा, संदीप कुमार, चरणजीत सिंह आदि नेता मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बगोदर विधायक विनोद सिंह ने किया सरेंडर