DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एनसीपी का साथ दिया तो हम विपक्ष में बैठेंगे : उद्धव

मोदी सरकार के विस्तार के बाद भाजपा और शिवसेना के रिश्ते और तल्ख हो गए हैं। शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने रविवार को कहा,‘अगर भाजपा सरकार बचाने के लिए एनसीपी का समर्थन लेती है तो शिवसेना विपक्ष में बैठेगी।’

दो दिन का अल्टीमेटम : ठाकरे ने शिवसेना के नवनिर्वाचित विधायकों और नेताओं के साथ बैठक के बाद प्रेस कांफ्रेंस में यह बात कही। उन्होंने कहा, ‘मैंने अपनी पार्टी का फैसला ले लिया है। भाजपा को अपनी भूमिका साफ करने के लिए दो दिन की मोहलत दे रहा हूं।’

बकौल ठाकरे 12 नवंबर को भाजपा को बहुमत साबित करना है और उसी दिन शिवसेना भी अपना फैसला लेगी। अगर भाजपा अपनी भूमिका साफ नहीं करती है तो शिवसेना विश्वास मत के दौरान वोट करेगी। उन्होंने बताया कि विधायक दल की बैठक में एकनाथ शिंदे को विधायक दल का नेता चुन लिया गया है।

केंद्र सरकार को समर्थन पर भी जल्द होगा फैसला : उद्धव ने खुलासा किया कि केंद्रीय मंत्री अनंत गीते के इस्तीफा के बारे में जल्द ही फैसला लिया जाएगा। अनंत गीते मोदी सरकार में शिवसेना के एकमात्र नेता हैं। सुरेश प्रभु पर उन्होंने कहा कि उनका भाजपा में शामिल होना दुर्भाग्यपूर्ण है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एनसीपी का साथ दिया तो हम विपक्ष में बैठेंगे : उद्धव