DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान ने हर सवाल के दिए जवाब

स्थान फतेहाबाद रोड स्थित पांच सितारा होटल आईटीसी मुगल। सुबह के 10.30 बजे। अचानक चहल-पहल शुरू हो गई। बाउंसर बैंक्वेट के हर प्वाइंट पर तैनात हो गए। 10.45 बजते ही बैंक्वेट के अंदर काली टीशर्ट और नीले रंग की जींस में मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान की धमाकेदार एंट्री हुई। सभी ने खड़े होकर उनका अभिवादन किया। देर तक तालियों की गड़गड़ाहट से आमिर का स्वागत होता रहा। आमिर ने साढ़े चार घंटे के दौरान किसी को असहज महसूस नहीं होने दिया। बात-बात में मुस्कराना और हर सवाल का जवाब देने से वे लोगों के बीच छा गए।

फिल्म अभिनेता आमिर को पहले लोगों ने फिल्मी पर्दे पर ही देखा था। वह भी कई किरदारों में। रविवार को मौका था उन्हें सामने से देखने और उनसे खुलकर सवाल-जबाव करने का। मिस्टर परफेक्शनिस्ट के चेहरे पर एक चमक थी। आखिर होती भी क्यों न। वे ताजनगरी में सत्यमेव जयते के आखिरी एपीसोड के लिए पत्नी किरन राव के साथ जो आए थे। उन्होंने डायस पर आते ही सबसे पहले समय पूछा। उन्हें जैसे ही बताया गया कि 10.45 बजे हैं। उन्होंने फौरन प्रोडक्शन कंट्रोल यूनिट (पीसीआर) को इशारों में समझाया कि कैसे क्या करना है। जो भी करना है जल्दी करो। समय का ध्यान रखना जरूरी है। उन्होंने अपने एपीसोड ‘मर्दानगी’ के बारे में दर्शक दीर्घा में बैठे लोगों का बताया। उसके बाद दर्शक दीर्घा की अगली पंक्ति में ही पत्नी किरन और नीता अंबानी के साथ विराजमान हो गए। 11 बजते ही दो घंटे का एपीसोड फुल स्क्रीन पर शुरू हो गया।

दो घंटे के एपीसोड के बीच में चार बार ब्रेक हुए। उस दौरान भी आमिर शांत नहीं बैठे। डायस पर आकर मुस्कराते अंदाज में कुछ न कुछ बोल ही देते थे। कभी पीसीआर यूनिट को कुछ डायरेक्शन देते तो फिर हॉल में मौजूद मैनेजमेंट टीम को समझाते। लाइव शुरू होने से पहले और खत्म होने के बाद उन्होंने कई बार कार्यक्रम शुरू कराने के बारे में भी टीम के लोगों को टिप्स दीं। बाद में जब एक घंटे का लाइव टेलीकॉस्ट दो बजे खत्म हुआ तो एक कुर्सी डायस पर डलवाकर कॉर्डलेस माइक लेकर बैठ गए और बोले जो सवाल करने हों कर लो। उन्होंने सभी सवालों के संजीदगी से जवाब दिए। हर कोई यही कहता नजर आया कि आमिर का अंदाज सबसे जुदा है। वास्तव में वे मिस्टर परफेक्शनिस्ट हैं।



बैंक्वेट में था पिन ड्रॉप साइलेंस
अपने चहेते अभिनेता को आंखों के सामने देखकर सभी लोग पिन ड्राप साइलेंस की मुद्रा में ही दिखे। जब आमिर खान बोलते थे तभी लोगों की चुप्पी टूटती थी।


आमिर के सामने लोगों ने उगले सच
 सत्यमेव जयते के एपीसोड में आगरा के लोगों ने आमिर के सामने सच बोलने से परहेज नहीं किया। जिनके बारे में उन्होंने किसी से भी शेयर नहीं किया होगा, रविवार को उन्होंने अपने मन की बात कहने में कोई संकोच नहीं किया। एक सवाल आया कि मैं शराब नहीं पीता हूं, लेकिन मेरे साथी मुझ पर ऐसा करने के लिए दबाव डालते हैं। इस बात से मैं परेशान रहने लगा हूं। मुङो क्या करना चाहिए। इस पर जवाब मिला इससे दूर ही रहो। एक महिला ने पूछा कि मां और बाप में किसको पावरफुल होना चाहिए। आमिर बोले किसी को नहीं। पावर प्ले का गेम ठीक नहीं होता है। उन्होंने अपने बेटे आजाद का उदाहरण देते हुए कहा कि जब वह गुस्सा होता है तो काफी देर तक रोता है। उसे एक कमरे में ले जाकर रोने देता हूं। उसके बाद वह नार्मल हो जाता है। एक सज्जन ने कहा कि मैं गुस्सैल हूं। अब आगे से अपने व्यवहार में बदलाव लाऊंगा। लड़के और लड़की में फर्क करने की भी लोगों ने बातें कीं। इन सभी सवालों पर आमिर ने कहा कि सच का सामना करना चाहिए। कोई गलत काम नहीं करना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान ने हर सवाल के दिए जवाब