DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हमारे दर्शकों का मिजाज एकदम अलग होता है: आमिर खान

हॉलीवुड की बात बॉलीवुड से बिल्कुल अलग है। हमारे यहाँ के विषय और दर्शकों के मिजाज और हॉलीवुड के दर्शकों के मिजाज और विषयों में भारी फर्क है। हमें उनकी नकल करने की जरूरत नहीं। हमारी अपनी पहचान है, लिहाजा हमें उधार की पहचान की जरूरत नहीं। हमारे सवा करोड़ लोगों को वास्तविकता से दूर ले जाने की जरूरत नहीं। यह कहना है मशहूर फिल्मकार और आमिर खान की पत्नी किरन राव का जो कि आमिर के साथ सत्यमेव जयते के स्पेशल एपीसोड मुमकिन है की शूटिंग के सिलसिले में आयी थीं। शूटिंग के बाद मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा हिन्दी सिनेमा के 100 साल के सफर के बाद भी यही हमारी खुद की पहचान हमें विदेश में सम्मान दिलाएगी।

सिनेमा के वैश्वीकरण के बाद हिन्दी सिनेमा के सामने की चुनौतियों के सवाल पर फिल्मकार किरन ने कहा हॉलीवुड से होड़ की जरूरत नहीं। सोचना होगा कि किस तरह असल पहचान जिंदा रखते हुए अपनी फिल्मों को बेहतर बनायें। समाज की हकीकत को बयां करने वाले पति के शो सत्यमेव जयते के बाबत कहा कि भारतीय दोहरी मानसिकता के शिकार हैं। एक तरफ महिला को देवी की तरह पूजते हैं, तो दूसरी ओर उस पर जुल्म ढहाते हैं। दुखद है कि हिन्दुस्तान में महिलाओं को अभी बराबरी का हक नहीं मिल पाया, जबकि विदेशों में तरक्कीपसंद सोच से महिलाएं अपने अधिकारों को पा चुकी हैं। महिलाओं पर हिंसात्मक घटनाओं को सुनकर बेहद दुख होता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हमारे दर्शकों का मिजाज एकदम अलग होता है: आमिर खान