DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फर्जी चेक से 16 लाख 70 हजार 582 रुपये निकाले

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) कसेरी बाजार की शाखा से फर्जी चेक के जरिये 16 लाख सत्तर हजार 582 रुपये उड़ा दिये गये। घटना के नौ दिन बाद शनिवार को शाखा प्रबंधक की तहरीर पर पुलिस ने गबन और धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज की। इधर, वारदात की सूचना देने में देरी पर पुलिस ने शाखा प्रबंधक समेत सभी बैंककर्मियों को संदेह के दायरे में रखा है। इधर, नौ दिन बाद रिपोर्ट दर्ज कराये जाने पर कई सवाल उठने लगे हैं। पुलिस ने जल्द ही मामले के खुलासे का भरोसा दिलाया है।

घटना के संबंध में नगर कोतवाल सीबी सिंह ने बताया कि पीएनबी की कसेरी बाजार के शाखा प्रबंधक हरिशंकर दत्त ने शनिवार को तहरीर दी कि 30 अक्तूबर को अखिलेश कुमार के पक्ष में बाराबंकी बैंक का चेक (नंबर सीएचपी 838220) क्लीयरिंग में आया था। जांच के बाद चेक को सही पाया गया और उसमें अंकित 16 लाख 70 हजार 582 रुपये का भुगतान अखिलेश कुमार की खाता संख्या 6026000100000 में कर दिया गया। इस बीच, क्लियरेंस के बाद शाखा प्रबंधक को पता चला कि जिस चेक पर इतनी बड़ी धनराशि का भुगतान हो गया वह फर्जी था। चौंकाने वाली बात यह है कि इतनी बड़ी घटना होने के बाद भी शाखा प्रबंधक पांच दिन तक चुप्पी साधे रहे।

नगर कोतवाल ने बताया कि शनिवार को शाखा प्रबंधक हरिशंकर दत्ता ने तहरीर देकर अखिलेश कुमार के पिता नाम व पता अज्ञात के खिलाफ फर्जी चेक से 16 लाख 70 हजार 582 रुपये उड़ाने की रिपोर्ट दर्ज करायी। कोतवाल ने बताया कि शाखा प्रबंधक  की तहरीर पर मामले में धारा 419, 420, 467, 468 व 471 आईपीसी के तहत रिपोर्ट दर्ज की गयी है। नौ दिन बाद रिपोर्ट दर्ज कराये जाने पर शाखा प्रबंधक समेत सभी बैंककर्मी शक के दायरे में हैं। इधर, शाखा प्रबंधक हरिशंकर दत्ता ने कहा कि अधिशासी अभियंता ग्रामीण अभियंत्रण ने बाराबंकी शाखा में शिकायत की थी कि चेक नंबर सीएचपी 838220 उन्होंने जारी नहीं किया। आखिर इस पर भुगतान कैसे हो गया। बाराबंकी बैंक ने ईमेल से पूछताछ की। इसके बाद खुलासा हुआ कि फर्जी चेक से 16 लाख 70 हजार 582 रुपये का भुगतान करा लिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फर्जी चेक से 16 लाख 70 हजार 582 रुपये निकाले