DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जीवनरक्षक 45 दवाएं गुणवत्ता जांच में फेल

सर्दी, जुकाम, निमोनिया और खून का थक्का जमने जैसे रोगों में कारगर 45 जीवनरक्षक दवाएं गुणवत्ता परीक्षण में बेअसर साबित हुई हैं। इसमें संक्रमण रोकने और प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली दवाएं भी शामिल हैं।

ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) के देशव्यापी अभियान में यह हकीकत सामने आई। सितंबर की इस रिपोर्ट के मुताबिक, पैरासिटामॉल (सीरप, टेबलेट और इजेक्शन), पेनकिलर आईबुप्रोफिन-400, निमोनिया-टौंसिल में कारगर एंटीबायोटिक एमॉक्सीलिन, बुखार के लिए ओफ्लोक्सीसिन जैसी दवाएं शामिल हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, सभी 45 दवाएं जेनेरिक हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जीवनरक्षक 45 दवाएं गुणवत्ता जांच में फेल