DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नौ नहीं, नौ लाख लोगों को स्वच्छता अभियान से जोड़ेंगे: जगद्गुरु रामभद्राचार्य

वाराणसी में शनिवार को जिस समय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी राष्ट्रीय स्वच्छता अभियान के लिए नौ दूतों के नामों की घोषणा कर रहे थे, उस समय उन दूतों में से एक जगद्गुरु रामभद्राचार्य बस्ती शहर में थे। चित्रकूट के अंतरराष्ट्रीय विकलांग विश्वविद्यालय के कुलाधिपति और प्रख्यात संत जगद्गुरु रामभद्राचार्य ने त्वरित प्रतिक्रिया में कहा कि नौ नहीं, हम तो नौ लाख लोगों को इस अभियान से जोड़ देंगे। उन्होंने कहा कि अपने आसपास की सफाई के साथ ही तन और मन की सफाई भी समय की जरूरत है। मोदी ने दूतों की सूची में उन्हें दूसरा स्थान दिया है।

जगद्गुरु दरभंगा जाते समय बस्ती के सिविल लाइंस में वरिष्ठ अधिवक्ता चंद्रभूषण मणि त्रिपाठी के आवास पर कुछ पल के लिए रुके थे। ‘हिन्दुस्तान’ से विशेष बातचीत में जगद्गुरु रामभद्राचार्य ने मोदी को स्वच्छता अभियान के लिए बधाई देते हुए कहा, ‘मैं विनम्रतापूर्वक इस दायित्व को स्वीकार करता हूं। श्रीरामकृष्ण कथा में आने वाले सभी श्रद्धालुओं से स्वच्छता का संकल्प लूंगा।’ गंगा के अलावा अन्य नदियों की सफाई के सवाल पर उन्होंने कहा कि शुरुआत अच्छी है। सभी नदियों की सफाई होगी। प्रधानमंत्री से गंगा स्वच्छता से जुड़े टिहरी बांध की समस्या को दूर करने को कहा जाएगा।
जगद्गुरु रामभद्राचार्य ने कहा कि वेद में चार देवों की चर्चा की गई है। इनमें माता, पिता, गुरु और अतिथि शामिल हैं। मैं इनमें पांचवां ‘राष्ट्र देवो भव’ जोड़ने जा रहा हूं। राष्ट्रप्रेम की भावना होगी तो हर किसी को स्वच्छता की प्रेरणा मिलेगी। पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान से बढ़ते तनाव पर उन्होंने कहा कि सीमा पर हमारी सेना मुंहतोड़ जवाब दे रही है। प्रदेश की सरकार के कार्यो को लेकर किए गए सवाल पर उन्होंने कहा कि ‘जबरा मारे, रोऐ न दे’। व्यक्तिगत रूप से अखिलेश यादव बहुत अच्छे हैं, लेकिन उनके अंकल्स उन्हें अपने मन से काम करने नहीं दे रहे हैं। अयोध्या में रामंदिर के सवाल पर रामभद्राचार्य ने कहा कि रामंदिर बहुत जल्द बनेगा। मुङो लगता है कि 6 दिसम्बर, 2016 तक यह कार्य पूरा हो जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नौ लाख लोगों को स्वच्छता अभियान से जोड़ेंगे: जगद्गुरु रामभद्राचार्य