DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इस्लामिक स्टेट के पाकिस्तान में प्रसार की आशंका

इस्लामिक स्टेट के पाकिस्तान में प्रसार की आशंका

पाकिस्तानी सुरक्षा एजेंसियों ने सरकार को खतरनाक आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के बढ़ते खतरे के बारे में चेताया है। बलूचिस्तान की प्रांतीय सरकार द्वारा केन्द्र सरकार और कानून प्रवर्तन एजेंसियों को भेजी गई एक खुफिया रिपोर्ट में पश्चिम एशिया के इस आतंकवादी संगठन के बढ़ते प्रभाव के प्रति आगाह किया गया है। इस आतंकी संगठन को अरबी भाषा में डैश कहा जाता है।

डान ने अपनी वेबसाइट पर खबर दी कि 31 अक्टूबर की इस खुफिया सूचना रिपोर्ट में कहा गया कि आईएस ने खबर पख्तूनख्वा के हांगू जिले तथा खुर्रम कबाइली जिले के 10 से 12 हजार अनुयायियों को भर्ती करने का दावा किया है। बलूचिस्तान के गृह एवं कबाइली मामलों के विभाग की रिपोर्ट में कहा गया कि यह विश्वसनीय रूप से पता चला है कि डैश ने लश्कर ए झांगवी (एलएजे) और अहल ए सुन्नत वाल जमात (एएसडब्ल्यूजे) के कुछ तत्वों को पाकिस्तान में हाथ मिलाने का प्रस्ताव दिया है। डैश ने 10 सदस्यीय रणनीतिक योजना शाखा बनाई है।

एलएजे और एएसडब्ल्यूजे सुन्नी मुस्लिमों के शिया विरोधी संगठन हैं। रिपोर्ट में कहा गया कि आईएस ने उत्तरी वजीरिस्तान में सेना नीत अभियान के जवाब में खबर पख्तूनख्वा में सैन्य प्रतिष्ठानों तथा सरकारी इमारतों पर हमले तथा अल्पसंख्यक शिया समुदाय के सदस्यों को निशाना बनाने की योजना बनाई है। हालांकि, आधिकारिक रूप से अब तक इस्लामिक स्टेट की उपस्थिति स्थापित नहीं हुई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इस्लामिक स्टेट के पाकिस्तान में प्रसार की आशंका