DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्कूल में मासूम छात्र से रेप का मामला

फन एन लर्न स्कूल में मासूम बच्चाी से रेप की जानकारी होने पर शनिवार को शहर के लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। सुबह लालडिग्गी के सामने स्थित स्कूल पर जुटी भीड़ ने जमकर तोड़फोड़ की। पुलिस ने लाठियां बरसानी शुरू कीं तो भीड़ पथराव करने लगी। पुलिस की पिटाई से एक युवक का सिर फट गया जबकि दजर्न भर से अधिक लोग भी घायल हो गए। शुक्रवार को इस मामले में पुलिस ने लड़की के पिता की तहरीर पर रात डेढ़ बजे अज्ञात लड़के के खिलाफ केस दर्ज कर लिया था। शनिवार को स्कूल के डायरेक्टर नेहाल अहमद खां को बच्चाी की सुरक्षा नहीं कर पाने व मामले को दबाने के प्रयास में गिरफ्तार कर लिया गया।


शुक्रवार रात स्कूल परिसर में चार साल की मासूम से रेप का मामला सामने आया था। शनिवार सुबह इसके खिलाफ कुछ लोग स्कूल पहुंचे। गेट खुला देख आक्रोशित लोग स्कूल परिसर में घुस आए। तीन पार्षदों के नेतृत्व में परिजनों के साथ जुटी भीड़ धरने पर बैठ गई। नारेबाजी के बीच राजघाट थाने की पुलिस पहुंची। धरना दे रहे लोग तत्काल गिरफ्तारी व स्कूल बंद करने की मांग कर रहे थे। पुलिस ने तीन घंटे का वक्त मांगा। इसी बीच वहां अचानक भीड़ बढ़ गई। नारेबाजी तेज हो गई तथा स्कूल में तोड़फोड़ शुरू हो गई। भीड़ ने मैनेजर के चैंबर को निशाना बनाया और वहां का फर्नीचर तोड़ डाले। पुलिस ने रोका तो भीड़ और आक्रामक हो गई। कुछ ही देर में मौके पर सिटी मजिस्ट्रेट व सीओ कोतवाली के नेतृत्व में आसपास के थानों की पुलिस बॉडी प्रोटेक्टर, हेलमेट और लाठी से लैस होकर पहुंच गई। उग्र भीड़ पर पुलिस ने लाठियां बरसानी शुरू कर दीं। लोगों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। इसमें रेती चौक निवासी गुड्डू गांधी का सिर भी फट गया। बाद में उसे जिला अस्पताल भेजा गया। कुछ देर में एसपी सिटी राजघाट थाने पहुंच गए।


इसके बाद पुलिस ने बच्चाी के परिजनों को बुलाया। उनसे वार्ता के दौरान पता चला कि बाथरूम में दरिंदगी की शिकार बच्चाी को बाद में एक दाई ने संभाला था। तय हुआ कि स्कूल के पूरे स्टाफ की बच्चाी के सामने परेड कराई जाए। इसके बाद महिला थाने में एक-एक कर स्कूल के प्रबंधक, डायरेक्टर, पिं्रसिपल, शिक्षिकाओं व दाइयों की परेड हुई। उसमें से एक शिक्षिका व एक दाई को देखने के बाद बच्चाी ने बताया कि उसने दोनों को अपने साथ हुई घटना की जानकारी दी थी तो एसपी सिटी ने दोनों को पूछताछ के लिए अलग कमरे में भेज दिया। शिक्षिका व दाई इस घटना की जानकारी से इनकार कर रही हैं, मगर पुलिस मान कर चल रही है कि इन दोनों के जरिए पुलिस मुख्य आरोपित तक पहुंच सकती है।
---------------------------
कोट
पुलिस ने रात में ही केस दर्ज कर लिया था। शिनाख्त परेड कराई गई, जिसमें बच्चाी ने दो महिलाओं के बारे में बताया कि उन्हें घटना की जानकारी दी थी। उन दोनों महिलाओं से पूछताछ कर दोषी लड़के तक पहुंचने का प्रयास किया जा रहा है। स्कूल के डायरेक्टर बच्चाी की सुरक्षा न कर पाने और गंभीर मामले को दबाने के प्रयास के दोषी हैं, लिहाजा उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है।
-आरके भारद्वाज, एसएसपी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: स्कूल में मासूम छात्र से रेप का मामला